अनाचार की पीड़िता छात्रा की शिकायत सुनने से इन्कार किया बेमेतरा पुलिस ने !

0
सोशल मीडिया के माध्यम एक कक्षा नवमी की छात्रा लगातार गुहार लगा रही है कि वह किसी दुकान में काम करने जाती थी, जहां दुकान मालिक का बेटा और उसके घर आया उसका दोस्त उसके साथ जबरदस्ती शारीरिक शोषण करते रहे हैं…!

राजधानी (hct)। जिला बेमेतरा के बेरला जनपद अंतर्गत ग्राम देवरबीजा की कक्षा नवमी में अध्ययनरत छात्रा के साथ जोकि अध्यापन के साथ बाकी के खाली समय में परिवार की कमजोर आर्थिक स्थिति के चलते गांव के ही किसी दुकान में काम करने जाती थी। वहां पर दुकान मालिक का बेटा ओम राव और उसके घर आया एक अन्य युवक सदा सोहन के साथ उसे बहला फुसलाकर कहीं अन्यत्र भगा दिए जाने की आपबीती बताते हुए छात्रा का एक वीडियो दिनांक 9 फरवरी 2020 से सोशल मीडिया में वायरल हुआ है।

आश्चर्य इस बात का है कि पल-पल की खबरों से नवाजे जाने वाले इस सोशल (अगर इसे चोचला मीडिया कहूँ तो कोई अति नहीं होगी) मीडिया में लगभग सप्ताह बीतने जा रहे इस घटना को किसी एक भी खबरनवीसों के द्वारा कोई तवज्जों नहीं दिया जाना कुछ और ही संकेत दे रहा है। खैर, सुनिए पीड़िता की कहानी पीड़िता की जुबानी :

उक्त वीडियो में छात्रा कह रही है कि – जब उसे कहीं अन्यत्र भगा दिया गया था वहां सोहन नामक युवक ने उसकी माली हालात और उसकी नादानी को देखते हुए उससे जबरदस्ती शारीरिक संबंध कायम किया। किसी तरह जब पीड़िता वहाँ से वापस अपने घर आई और अपने साथ हुए कारित घटना की जानकारी अपने परिजन को दी तब उक्त घटना की नामजद शिकायत/रिपोर्ट लिखाने जिला व थाना बेमेतरा गए तो वहां उसकी न तो शिकायत सुनी गई और ना ही रिपोर्ट लिखी गई !
उक्ताशय की जानकारी का भान होते ही आरोपी युवक और उसके परिजन पीड़ित छात्रा के परिवार वालों को प्रलोभन देकर मामला रफा दफा किए जाने का भी प्रयास किया गया।
अब सवाल यहाँ पर यह खड़ा होता है कि छत्तीसगढ़ प्रदेश में रमन सिंह के शासनकाल से पुलिस प्रशासन और गृहमंत्री का तालमेल तो जगजाहिर है लेकिन एक कर्तव्यनिष्ठ पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी की कर्तव्यपरायणता को भी उसके ही विभाग के जिम्मेदार अधिकारी ठेंगा दिखाने से बाज नहीं आ रहे हैं !

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *