छत्तीसगढ़ प्रदेश का नौनिहाल जिला मुंगेली के पथरिया थाना अंतर्गत ग्राम पथरगढ़ी में का नाम रविवार को अचानक प्रदेश के नक़्शे में उभरकर परिलक्षित हो गया। इसलिए नहीं कि यहाँ तेल के कुंए का पता चल गया हो और इसलिए भी नहीं कि यहाँ का कोई बच्चा अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर अपना या अपने प्रदेश का नाम रोशन कर गया हो, बल्कि इसलिए क्योंकि यहाँ के कुछ शातिर अन्नदाता किसान अपने खेत में हरा सोना (green gold) याने की गांजा की खेती करते हैं; और यहाँ का पूरा इलाका इसके लिए जाना जाता है।

रायपुर (hct)। रविवार की पथरिया एसडीओपी नवनीत कौर को मुखबिर से सुचना मिली कि गांव के रामसिंह व बरातन निषाद के द्वारा चोरी-छिपे इरादतन गांजे की पौधारोपण किया गया हैं जिसकी संख्या लगभग दर्जनों में होगी। अवगत हो कि यह क्षेत्र गांजा की बिक्री के लिए लम्बे समय से कुख्यात है।
सूचना मिलते ही एसडीओपी नवनीत कौर ने छापामार कार्रवाई के लिए एएसआई आर एस ठाकुर, यशवंत सिंह राठौर, आरक्षक उमेश पोर्ते, खेमसिंह ठाकुर, मनीष गेंदले, राजेश राजपूत, बालकृष्ण मरकाम के साथ दल बनाकर बताए गए स्थल पर पहुँची और ग्राम के ही रामसिंह निषाद पिता बैसाखू निषाद, उम्र 50 वर्ष ने अपने खेत में विभिन्न प्रकार के फसलो के बीच मे गाँजे का फसल भी लगाया गया है, जहाँ पर मौके पर रामसिंह के खेत से गाँजे के 29 नग बड़े आकार के गांजा के पौधे जब्त किए गए।
वहीं बरातन निषाद पिता मुंजन निषाद उम्र 65 वर्ष के घर मे दबिश दी गई। जहाँ उसके घर के पीछे लगे सब्जी बाड़ी से 16 नग गाँजे का पेड़ जब्त किया गया। इस कार्रवाई में कुल 45 नग गाँजे का पेड़ जब्त किया गया जो अच्छा खासा आकार ले चूका था।
दोनो आरोपियो को पकड़कर पथरिया थाना लाया गया और उन पर नारकोटिक्स एक्ट के तहत कार्यवाही की गई। पुलिस के इस छापामार कार्रवाई से क्षेत्र के अवैध कारोबारियों में दहशत का आलम था।

By Soni Smt. Sheela

सम्पादक : प्रचंड छत्तीसगढ़, मासिक पत्रिका, राजधानी रायपुर से प्रकाशित। RNI : CHHHIN/2013/48605 Wisit us : https://www.pc36link.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.