किसी जोड़े ने “जूता” की आड़ में तो किसी जोड़े ने “प्रकृति” की आड़ में वस्त्रहीन हो गया है।

कहते हैं इतिहास अपने को दोहराता है। किसी जोड़े ने जूता की आड़ में नग्नता परोसी तो किसी जोड़े ने पर्यावरण बचाने की आड़ में। इंसान कितना भी ब्रम्हांड की खाक छान ले रहेगा तो वह नंगा ही। सन 1990 आपको याद होगा एक मॉडल जोड़ा ने “जूता (टफ शूज़)” बिकवाने की शोहरत की आड़ में नग्नता बिखेरी थी और अब एक दूसरे जोड़ा ने “प्रकृति” बचाने की आड़ में वस्त्रहीन हो गया है।
इस तस्वीर ने वर्ष 1990 याद दिला दिया जब टफ शूज़ ने एक कैंपेन लॉन्च किया जिसमें मिलिंद सोमन और मधु सप्रे को नग्न अवस्था में दिखाया गया था। जिन पर एक अजगर लिपटा हुआ था। उस दौर के हिसाब से हद से ज़्यादा बोल्ड इस ऐड को कई सांस्कृतिक संस्थाओं के गुस्से और आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। ऐनिमल राइट्स वालों ने भी इस मौके को हाथ से जाने नहीं दिया था हालांकि उन्हें मधू या मिलिंद से नहीं पर ऐड में अजगर के इस्तेमाल से नाराज़गी थी।
प्लेबॉय मॉडल और अभिनेत्री अमांडा सेर्नी ने अपने ब्वॉयफ्रेण्ड, प्रेमी कान्स बार्टल के साथ के साथ पूरी तरह वस्त्रहीन तस्वीर दी है जो एक अमरीकी पत्रिका के कवर पेज का अंग बनेगी. ना..ना..ना , कहा जा रहा है; अमांडा ने यह पोज सिर्फ प्रसिद्धि पाने या सेक्स सिंबल बनने के लिए नही दी है बल्कि उन्होंने पर्यावरण तथा जीव जंतुओं को बचाने के लिए यह संदेश दिया है।
अमांडा का कहना है कि हम खाने-पानी से लेकर पहनने तक प्रकृति का दोहन कर रहे हैं, जबकि हमारा अतीत ऐसे ही तस्वीरों का रहा है यानि मनुष्य पहले इसी तरह घूमता फिरता रहा है. हम प्रकृति का कम से कम दोहन करें ताकि आने वाली पीढ़ी के लिए भी जीवन जीना सरल हो सके।
तस्वीरें और भी थीं लेकिन हम अश्लील मानसिकता से यह तस्वीर नही दे रहे हैं बल्कि मानव जीवन को कुछ संदेश मिल सके इसलिए यह तस्वीर आपको दिखा रहे हैं।अमांडा एक इवेंट के लिए भारत आई थीं। उन्होंने नोरा फतेही की ‘दिलबर’ और लव्यात्री की ‘अख लाड जावे’ पर परफॉर्म किया और दर्शकों को दीवाना बना दिया था।

 

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *