नीलेश गोयल
खरोरा।
Ad space

रायपुर (खरोरा)। राजधानी रायपुर से सटे खरोरा नगर पंचायत के समीपस्थ ग्राम पचरी में पश्चिम बंगाल से काम कर लौटे मालदा ग्राम, जिला बेमेतरा के रहने वाले एक ही परिवार के पांच सदस्य जोकि अपने रिश्तेदार के यहां ग्राम पचरी में रुके हुए थे, को उन्हें व रायपुर राजधानी से काम कर कर लौटे दो परिवारों के 20 सदस्य परिवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम व ग्राम पंचायत के द्वारा पूर्ण आइसोल्यूशन निगरानी में रखने के लिए उनके घर के सामने पर्चा चस्पा किया गया है व घर के सभी सदस्यों को पूर्ण निगरानी में आइसोलेशन में रहने की हिदायत दी गई है।

जानकारी के मुताबिक ग्राम पचरी में कुल 26 लोगों को पूर्ण रूप से आइसोलोशन में रहने की हिदायत दी गई है। ग्राम मालदा, जिला बेमेतरा में रहने वाला एक पांच सदस्य परिवार, पश्चिम बंगाल रोजी मजदूरी करने गए हुए थे 29 मार्च को लौटकर ग्राम पचरी में अपने रिश्तेदार के यहां ठहरे हुए थे जब इसकी सूचना स्वास्थ विभाग के कर्मचारियों को मिली तो उनकी प्रारंभिक जांच की गई एहतियात के तौर पर आसपास के 50 से भी अधिक घरों के लोगों की भी जांच की गई सभी पूर्ण रूप से स्वस्थ व सामान्य पाये गये। कोरोना वायरस के संक्रमण पर नियन्त्रण के मद्देनजर उक्त व्यक्तियों के घर के सामने पूर्ण आइसोलेशन में रहने की हिदायत स्वरुप उक्त व्यक्ति के घर की दीवार पर उप स्वास्थ्य केंद्र, पचरी (खरोरा) के द्वारा चस्पाकर घर के सभी सदस्यों को निकलने के लिए मनाही किया गया है। शासन द्वारा दिए गए निर्देशों के प्रतिपालन हेतु कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए एडवाइजरी जारी की गई है।

यदि कोई व्यक्ति विदेश दौरे या किसी अन्य शहर से वापस आया हो तो इसकी सूचना तत्काल थाने या संबंधित स्वास्थ्य विभाग में दी जाए किंतु कुछ लोगों द्वारा इसे छिपाने कोशिश की जा रही है। इस संबंध मे सरला बैरागी एन एम ऐ उप स्वास्थ्य केंद्र पचरी खरोरा ने बताया कि उसके परिवार के सदस्यों की तबीयत अभी ठीक है, उन्हें पूर्ण आइसोलेशन में रहने का निर्देश जारी किया गया है व समय-समय पर उनकी परिवार की जांच की जा रही है।

ad space

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here