करगी रोड कोटा। कोटा विधानसभा के अंतर्गत जनपद पंचायत कोटा के ग्राम रथ खंडी के आश्रित ग्राम छोटे बरर, बड़े- बरर मतदान केंद्र क्रमांक 143 के 491 मतदाताओं के द्वारा सिंचाई की व्यवस्था ना होने के कारण ग्राम पंचायत के प्रबुद्धजनों के द्वारा मतदान का बहिष्कार किया गया।
विदित हो कि 2 माह पूर्व ग्राम पंचायत के द्वारा लिखित में जानकारी विभागीय अधिकारी, राजस्व, कोटा, तहसीलदार, कोटा, सिंचाई विभाग, कोटा लिखित जानकारी देने के बावजूद तीन एनीकट होने के बावजूद भी किसानों को सिंचाई का लाभ ना मिल पाने की वजह से चुनाव का बहिष्कार किया गया जबकि निर्वाचन आयोग द्वारा महापर्व की शत प्रतिशत मतदान करने की मतदाताओं को जागरूक किया जा रहा है वहीं दूसरी तरफ मतदान का बहिष्कार करना बहुत ही निंदनीय है।
    ज्ञात हो कि कोटा विधानसभा के ग्राम पंचायत रतखंडी के आश्रित ग्राम बड़े बरर और छोटे बरर के ग्रामीणों ने चुनाव बहिष्कार की चेतावनी दी थी सैकड़ों आक्रोशित ग्रामीणों ने गांव में रैली निकालकर शासन-प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और मतदान नहीं करने का ऐलान किया था। ग्रामीण एनीकट निर्माण होने के बावजूद फसल के लिए पानी नहीं मिलने से आक्रोशित है। ग्रामीणों ने इससे पहले कलेक्टर और एसडीएम को फसल के लिए पानी देने की मांग की थी, लेकिन किसानों की मांग पर अधिकारियों ने ध्यान नहीं दिया। जिसके चलते किसानों की फसल सूख गई। बिलासपुर के कोटा विधानसभा के आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र के ग्राम पंचायत रतखंडी के आश्रित ग्राम छोटे बरर और बड़े बरर के किसान पिछले कई वर्षों से गांव में सिंचाई सुविधा की मांग कर रहे थे। किसानों की मांग को देखते हुए अरपा नदी में तीन एनीकट करोडों रुपए की लागत से बनाया गया, लेकिन किसानों को इसका लाभ नहीं मिला, वहीं इस वर्ष कम पानी की वजह से किसानों की फसल सूखने की समस्या को लेकर बिलासपुर कलेक्टर, एसडीएम को ज्ञापन दिया था इसके बाद भी इन समस्या का कोई समाधान नहीं हुआ जिससे नाराज ग्रामीणों ने इस बार विधानसभा चुनाव का बहिष्कार किया था उसके बाद आज कोटा विधानसभा के दूसरे चरण के मतदान में अभी तक एक भी कोई भी मतदाता मतदान नही किया है।
         ग्रामीणों ने कहा है कि अरपा नदी में स्थित एनीकट बांध तीन चार साल पहले ही पूर्ण हो चुका है, लेकिन खेत तक सिंचाई के लिए नहर का निर्माण आज तक नहीं कराया गया है। इससे एनीकट के पानी का लाभ किसी किसान को नहीं मिला इसके चलते हमने विधानसभा चुनाव बहिष्कार करने का निर्णय लिया गया।
उक्ताशय की जानकारी के लिए जब कोटा अनुविभागीय अधिकारी राजस्व से मोबाइल नंबर 8120 30 9000 पर संपर्क किया गया तो उनके द्वारा फोन रिसीव नहीं किया गया।
उक्त जानकारी हल्का नंबर 15 साहू पटवारी के द्वारा दी गई एसडीओपी अभिषेक सिंह को खबर लगते ही ग्राम पंचायत रतखंडी पहुंचे कोई भी मतदाता वोट डालने नहीं आए दिन भर मतदाता दल पुलिस बल इंतजार शाम 5:00 बजे तक करते रहे।

*अंकित सोनी।

 

By Kirit Thakkar

विगत 10 से अधिक वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय भूमिका, विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में समसामयिक आलेख, कविताएं, व्यंग रचनायें प्रकाशित, पढ़ना लिखना विशेष अभिरुचि, गरियाबंद जिले में "हाईवे क्राइम टाइम" के जिला ब्यूरो चीफ पद पर नियुक्त।

Leave a Reply

Your email address will not be published.