शिक्षक और शिक्षिका दोनों आपत्तिजनक हालत में पकड़े गए वीडियो हुआ वायरल तो…
“सब कुछ कर दिया ऑफर !”

गरलोड (धमतरी)। एक दिन पहले की घटना है, जिले के मगरलोड से एक शर्मनाक घटना उजागर हुआ है, वह भी उनके द्वारा कारित है जो बच्चों और समाज को शिक्षा देते हैं।
घटना यह कि, मगरलोड क्षेत्र में जंगल-झाड़ियों के बीच खुले आसमान के नीचे एक शिक्षक और शिक्षिका दोनों नशे में धुत्त होकर रंगरेलियां मना रहे थे, तभी एक आसपास का ही रहने वाला एक युवक वहां पर मोबाइल लेकर पहुंच गया। दोनों बिना कपड़े के आपत्तिजनक हालत में रंगरेलियां मना रहे थे कि किसी के होने का अहसास कर शिक्षक के द्वारा आनन-फानन में खड़े होकर अपना कपड़ा पहनने लगा और शिक्षिका लेटे-लेटे ही वीडियो बनाने वाले को बहुत कुछ ऑफर कर दिया। लेकिन वीडियो बनाने वाला कह रहा है कि मुझे इस बातों से कोई लेना देना नहीं है; जो साफ सुनाई दे रहा है। दूसरी तरफ वीडियो बनाने वाला उसे “सर” कहकर सम्बोधित कर रहा है। मतलब साफ है कि वह नंगाई के प्रतिमूर्ति से पूर्व परिचित है, और यह जानता था यह शिक्षक है।

सोशल मीडिया में इनका आपत्तिजनक वीडियो वायरल होने के बाद शिक्षिका ने मगरलोड थाने में 6 नवंबर 2019 को शोषण करने मामला शिक्षक के खिलाफ दर्ज करा दिए जाने की जानकारी मिल रही है। घटना के बाद से आरोपी शिक्षक फरार बताया जा रहा है। शिक्षिका ने आरोप है लगाया है कि वरिष्ठ पदाधिकारी शिक्षक ने उसे पिछले 1 साल से डरा-धमकाकर शारीरिक शोषण कर रहा था। जिस पर पीड़िता ने अपने परिवार के लोगों को आपबीती बताई। पीड़िता ने परिवारवालों को बताया कि शिक्षक किसी को बताने पर जान से मारने, नौकरी से निकालने एवं ट्रांसफर करने की धमकी देता रहा है। जिसके बाद परिवारवालों के साथ पहुंचकर थाने में एफआईआर दर्ज कराई। बता दें कि दोनों ही शादीशुदा हैं।
हालांकि वीडियो देखकर या सुनकर यह नहीं लगता है कि मामला इस प्रकार है लेकिन जब तक पूरे मामले की जांच नहीं हो जाए तो किसी भी नतीजे पर पहुंचना उचित नहीं होगा। यह वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है जो इन्ही का बताया जा रहा है…

वेबसाइट “हाईवे क्राइम टाइम” इस वीडियो के प्रमाणिकता की पुष्टि नहीं करता है।

और वीडियो बनाने वाले (आरोपी) युवक पकडे गए…!
मडेली गांव के रहने वाले लोकेश ध्रुव, टीलेश्वर कमार और पुरूषोत्तम यादव ने क्षेत्र के एक आदिवासी शिक्षिका का अश्लील वीडियो बना लिया और ब्लैकमेल करने लगे। उस वीडियो को किसी को नही दिखाने के एवज में महिला शिक्षिका से आरोपी 1 लाख की डिमांड कर रहे थे। वही शिक्षिका लोक-लाज के डर में दोनों आरोपी को अब तक 10 हजार रूपये दे चुकी है। लेकिन डिमांड पूरा नही होने पर आरोपी युवक ने अश्लील वीडियो को सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। जिसकी जानकारी होने के बाद शिक्षिका तुरंत मगरलोड थाना पहुँच कर दोनों आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। फिलहाल पुलिस ने शिक्षिका की शिकायत पर तीनो आरोपी के खिलाफ धारा 384,385 IPC 509 (ख) तहत मामला दर्जकर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

सूत्र

By Dinesh Soni

जून 2006 में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा मेरे आवेदन के आधार पर समाचार पत्र "हाइवे क्राइम टाईम" के नाम से साप्ताहिक समाचार पत्र का शीर्षक आबंटित हुआ जिसे कालेज के सहपाठी एवं मुँहबोले छोटे भाई; अधिवक्ता (सह पत्रकार) भरत सोनी के सानिध्य में अपनी कलम में धार लाने की प्रयास में सफलता की ओर प्रयासरत रहा। अनेक कठिनाइयों के दौर से गुजरते हुए; सन 2012 में "राष्ट्रीय पत्रकार मोर्चा" और सन 2015 में "स्व. किशोरी मोहन त्रिपाठी स्मृति (रायगढ़) की ओर से सक्रिय पत्रकारिता के लिए सम्मानित किए जाने के बाद, सन 2016 में "लोक स्वातंत्र्य संगठन (पीयूसीएल) की तरफ से निर्भीक पत्रकारिता के सम्मान से नवाजा जाना मेरे लिए अत्यंत सौभाग्यजनक रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.