बालोद
नगर के साहू सदन में साहू संघ के संशोधित नियमावली अनुसार जिला साहू संघ के डेलिगेट्स का चुनाव संपन्न हुआ जहां जिले भर से 10 डेलिगेट्स का चयन किया गया इस दौरान सदन में अपने-अपने डेलीगेट चयन के लिए सुबह से ही गहमागहमी देखने को मिली।
डेलीगेट चुनाव के अंतर्गत सुबह 11:00 बजे से नामांकन प्रक्रिया शुरू हुई जहां नामांकन आवेदन की जांच एवं नाम वापसी प्रत्याशी संबोधन सहित मतदान प्रक्रिया दोपहर 2:00 बजे जिसके बाद शाम 4:00 बजे तक मत गणना एवं घोषणा किया जाना था लेकिन प्रदेश पर्यवेक्षक श्री रमेश साहू श्रीमती किरण अडेल एवं रामकिशोर साहू के कुशल नेतृत्व में सभी डेलीगेट निर्विरोध निर्वाचित किए गए।
डेलीगेट्स के 10 पदों के लिए कुल 23 अभ्यर्थियों द्वारा नामांकन भरा गया था जहां पर 12 लोगों ने नाम वापसी लिए और एक फॉर्म रिजेक्ट हुआ जिसके बाद 10 डेलिगेट्स निर्विवाद चुन लिए गए सुबह से ही अपने अपने डेलिगेट्स चयन के लिए गहमागहमी देखने को मिली इन चुने हुए प्रत्याशियों द्वारा अब जिले के 1 मुख्य पदाधिकारी जिला अध्यक्ष और दो उपाध्यक्ष जिसमें 1 महिला उपाध्यक्ष का चयन किया जाएगा।
ये बने डेलीगेट्स।
इस चुनाव में डेलीगेट्स के रूप में हरीश चंद्र साहू हलधर साहू सोमन साहू ओम प्रकाश साहू प्रेम लाल साहू नारायण साहू किशोरी साहू कृष्ण कुमार साहू पोषण लाल साहू एवं विवेकानंद साहू निर्वाचित हुए इस चुनाव संचालन के लिए प्रदेश साहू संघ के कार्यकारी अध्यक्ष रमेश साहू प्रदेश उपाध्यक्ष किरण अडिल संयुक्त सचिव किशन साहू पहुंचे हुए थे वहीं मुख्य चुनाव अधिकारी के रूप में टीआर साहू रघुनंदन गंगबोईर लेख राम साहू कौशल कुमार साहू रामस्वरूप साहू सेवंत साहू अनीता साहू लीलार सिंह साहू मदन लाल साहू मोहन कलिहारी रोहित कुमार साहू लिखन साहू मौजूद रहे। साथ ही समाज के स्वजातीय बंधुओं से आगामी 10 फरवरी को जिला के मुख्य पदाधिकारियों के चयन में उपस्थित होने का अनुरोध किया गया है।

By Dinesh Soni

जून 2006 में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा मेरे आवेदन के आधार पर समाचार पत्र "हाइवे क्राइम टाईम" के नाम से साप्ताहिक समाचार पत्र का शीर्षक आबंटित हुआ जिसे कालेज के सहपाठी एवं मुँहबोले छोटे भाई; अधिवक्ता (सह पत्रकार) भरत सोनी के सानिध्य में अपनी कलम में धार लाने की प्रयास में सफलता की ओर प्रयासरत रहा। अनेक कठिनाइयों के दौर से गुजरते हुए; सन 2012 में "राष्ट्रीय पत्रकार मोर्चा" और सन 2015 में "स्व. किशोरी मोहन त्रिपाठी स्मृति (रायगढ़) की ओर से सक्रिय पत्रकारिता के लिए सम्मानित किए जाने के बाद, सन 2016 में "लोक स्वातंत्र्य संगठन (पीयूसीएल) की तरफ से निर्भीक पत्रकारिता के सम्मान से नवाजा जाना मेरे लिए अत्यंत सौभाग्यजनक रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.