आचार संहिता का खुलेआम उल्लंघन कर चुनाव आयोग को दिखाया ठेंगा !

जहां एक ओर लोकतंत्र का ऐतिहासिक मतदान चल रहा था, जिसमें मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा मोबाइल फोन व इलेक्ट्रॉनिक सामान में वोटिंग बूथ के 200 मीटर तक पाबंद लगाया गया था, वही बालोद मालीघोरी के गोलू तिगाला द्वारा सारे नियम को तांक कर, खुलेआम नियम का उल्लंघन किया गया, वोटिंग बूथ में जाकर निर्दलीय प्रत्यासी देवलाल ठाकुर को वोट दिया व मोबाइल फोन से फ़ोटो खीच कर, सोशल मीडिया में सेंड किया गया…
बालोद। छत्तीसगढ़ चुनाव के दुसरा चरण मतदान वाले दिन डौंडी लोहारा विधानसभा के निर्दलीय उम्मीदवार के समर्थक इतने मतवाले हो गए हैं कि वे आदर्श आचार संहिता का खुलेआम उलंघन करते नजर आए। देवलाल ठाकुर के समर्थक गोलू तिलगा ने वोट डालते हुये अपने मोबाईल पर वीवीपेड में परिलक्षित होने वाली पर्ची की फोटो खींचकर सोसल मिडीया में वाइरल कर दिया।

जिसके बाद से चुनाव संपन्न कराने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों पर सवालिया निशान लग गया है। अक्सर अधिकारियों और कर्मचारियों से साठ-गांठकर चुनाव में हेराफेरी की बात विरोधी दलो के नेताओ द्वारा समय-समय किया जाता रहा है, वही इस मामले को वायरल होने की खबर को लेकर चुनाव संपन्न कराने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के पसीने छुट रहे है।
     इस संबंध में गोलू तिगाला से बात करने पर  कहा “जब वह मतदान करने गया तो किसी ने उसे मोबाइल ले जाने से नही रोका।”
   इससे पहले भी गोलू तिगाला व देवलाल ठाकुर कई बार विवादों में रह चुके है, बता दें कि 19 नवंबर को तिगाला राइस में से 6000 खाली मिठाई के डिब्बे पाया गया था, जिसे उड़नदस्ते द्वारा जब्त किया गया था, जिसमे तिगाला राइस मिल के मालिक ने त्योहार के नाम से मिठाई डब्बा लाना बताया गया था।
इस घटनाक्रम की जानकारी बालोद SP कल्याण एलिसेला व SDM हरेश मंडावी को दी गई थी, जिसमे मंडावी द्वारा कहा गया, लिखित शिकायत कीजिये, हमारे द्वारा कार्यवाही की जाएगी।

*हेमन्त साहू।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *