हिमाचल प्रदेश के बाद अब छत्तीसगढ़ के एक और “भाजपा नेता की पोर्न वीडियो” सोशल मीडिया में वायरल…,आप भी देखिए इनकी नंगाई।
हिमाचल प्रदेश के भाजपा महिला मोर्चा की रीना ठाकुर और उपेन पंडित की नग्नता के बाद अब छत्तीसगढ़ के खरसिया से भाजपा के युवा नेता की नंगाई का (पोर्न वीडियो) सच सामने आया है। बता दें कि इसके पहले भी छत्तीसगढ़ प्रदेश के भाजपा के एक बिगड़ैल राजस्थानी पीडब्लूडी एवं परिवहन मंत्री राजेश मूणत का भी एक वीडियो वाइरल हुआ था अब इसी भाजपा के एक और नंगे नेता का वीडियो वाइरल होने से भाजपा के बेटी बचाओ के ठेकेदारों का कथनी-करनी और चाल-चरित्र पर सवालिया निशान लगना जाहिर है।
रा
यपुर। खरसिया के भाजपा नेता की कथित पोर्न फिल्म वायरल,जिले में सियासी हंगामा तेज। भाजपा नेता ने दो साल पुराना फेक वीडियो बताया और पूर्व में शिकायत की बात कही। जबकि दूसरी तरफ शहर के लोगों में भाजपा नेता के चरित्र को लेकर उसकी आलोचनाएँ प्रारंभ हो गई है। अंदेशा है कि भाजपाई नेता के राजनीतिक भविष्य खत्म करने के लिहाज से विरोधियों ने उक्त वीडियो को सोशल मीडिया में वायरल किया है। हालाँकि परिवहन मंत्री की तरह यह नालायक भी दो मिनट में ही ढेर हो गया।
रायगढ़ जिले के एक भाजपा नेता कमल गर्ग की सीडी अब सोशल मीडिया में आई है। सीडी मे भाजपा नेता कमल गर्ग एक युवती के साथ दिख रहे हैं। इस संदर्भ में जब उनसे बात किया गया तो उनका कहना था कि यह फेक है। हालांकि उन्होंने यह भी जोड़ा की मैंने पूर्व में इस आशय की शिकायत भी की थी।

(वीडियो देखने के लिए दिए गए link को click करें)

https://youtu.be/mcFKPpcIxc8

भाजपा नेताओं के सीडी सीरीज के क्रम में अब भाजपा के एक और नेता का नाम शामिल होने को है। भाजपा नेता की इस तरह की सीडी आने की अफवाह दो सालों से थी लेकिन अब अंततः इसे कुछ लोगों ने सोशल मीडिया में लांच कर दिया है। लोगों में इस बात को लेकर चर्चा गर्म है कि कथित ज़मीन से जुड़े ये नेता सिर्फ ज़मीन के मामले में ही नहीं बल्कि ऐसे मामलों में भी बड़े सिद्धहस्त हैं।
उक्त भाजपा नेता युवा हैं और जनप्रतिनिधि भी हैं इस सीडी कांड से उनका राजनैतिक कैरियर दांव पर लग सकता है लिहाजा उनके राजनैतिक विरोधी भी इसे फैलाने में बढ़-चढ़कर हिस्सेदारी निभा रहे हैं। बताया जाता है जब इनकी सरकार थी तब उन्होंने थाने में यह शिकायत करवाई थी कि कुछ लोग उनको सीडी का भय दिखाकर उन्हें ब्लैकमेल कर रहे हैं और भाजपा नेता राजेश मूणत की तर्ज पर कुछ लोगों को शक के विना पर जेल भी भिजवा दिया था लेकिन उनके पास कुछ नहीं मिला इसलिए जल्द ही उन्हें जमानत मिल गई।
बहरहाल नेताजी के राजनैतिक भविष्य दांव पर लगा है।

By Dinesh Soni

जून 2006 में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा मेरे आवेदन के आधार पर समाचार पत्र "हाइवे क्राइम टाईम" के नाम से साप्ताहिक समाचार पत्र का शीर्षक आबंटित हुआ जिसे कालेज के सहपाठी एवं मुँहबोले छोटे भाई; अधिवक्ता (सह पत्रकार) भरत सोनी के सानिध्य में अपनी कलम में धार लाने की प्रयास में सफलता की ओर प्रयासरत रहा। अनेक कठिनाइयों के दौर से गुजरते हुए; सन 2012 में "राष्ट्रीय पत्रकार मोर्चा" और सन 2015 में "स्व. किशोरी मोहन त्रिपाठी स्मृति (रायगढ़) की ओर से सक्रिय पत्रकारिता के लिए सम्मानित किए जाने के बाद, सन 2016 में "लोक स्वातंत्र्य संगठन (पीयूसीएल) की तरफ से निर्भीक पत्रकारिता के सम्मान से नवाजा जाना मेरे लिए अत्यंत सौभाग्यजनक रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.