किरीट ठक्कर

गरियाबंद। छत्तीसगढ़ शासन के पंचायत एवं ग्रामीण व स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव सोमवार एक चुनावी सभा को संबोधित करने फिंगेश्वर पहुंचे, उनके साथ जिले के प्रभारी मंत्री रुद्र गुरु तथा कांग्रेस के राजिम विधायक अमितेश शुक्ल भी थे। फिंगेश्वर के राजमहल प्रांगण स्थित फुलवारी परिसर में आयोजित सभा को संबोधित करते बाबा सिंहदेव ने कहा की राहुल गांधी जो कहते हैं वह विचारपुर्वक ही कहते है, और जो कहते है तो उसे पुरा भी करते है। यदि कांग्रेस की सत्ता आयी तो गरीबों के लिए न्याय योजना लागु की जायेगी, इस योजना से प्रत्येक गरीब परिवार की महिला मुखिया को 6 हजार रुपया महिना मिलेगा, योजना को लागु करने 3 लाख 60 करोड रुपयों की आवश्यकता पडेगी, इसकी व्यवस्था हो जायेगी, एनडीए सरकार यदि चाहती तो गरीबों के लिए वो भी इसकी व्यवस्था कर सकती थी किंतु मोदी सरकार ने देश के लाखो गरीबों को छोड देश के सिर्फ 15 कार्पोरेट परिवारों पर ही ज्यादा ध्यान दिया। इसके लिए कांग्रेस की सरकार अगर सत्ताशीन हुयी तो 34 लाख नौजवानों को 2020 तक नौकरी दी जायेगी। आरटीआई तथा आरटीई के जैसा हम स्वास्थ्य का अधिकार कानुन लागु करेगें जिससे देश के एक एक नागरिकों को मामूली सर्दी खांसी से लेकर लिवर ट्रांसप्लान, किडनी ट्रांसप्लान, न्युरो सर्जरी जैसी गंभीर बीमारियों का मुफ्त ईलाज किया जायेगा लिए भी पर्याप्त पैसा है। राहुल गांधी ने सोच विचार कर योजनाओ की घोषणा पर सहमति दी है। उन्होने कहा की शिक्षा का अधिकार जो अभी सिर्फ आठवी कक्षा तक के लिए लागु है उसे 12 वीं कक्षा तक किया जायेगा।

टी एस सिंहदेव ने विधान सभा चुनाव में राजिम विधानसभा क्षेत्र में एक तरफा कांग्रेस को बहुमत से जीताने के लिए क्षेत्र की जनता का आभार माना।
इसी चुनावी सभा में प्रदेश के पीएचई मंत्री रुद्रगुरु ने कहा की छत्तीसगढ़ एक मात्र ऐसा प्रदेश है जहां धान का समर्थन मुल्य 2500 रुपया प्रति क्विंटल है , प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के पुर्व छत्तीस घोषणायें की थी, तीन महीने के अंदर इनमें से 18 घोषणायें पूरी की जा चुकी है।


सभा के दौरान महेन्द्र बहादुर सिंह, राकेश तिवारी, अनिल चंन्द्राकर, करीम खान, श्रीमती पुष्पा साहु, श्रीमति ममता राठौर, प्रतिभा हुमने, पुन्नुलाल कुटारे मुकेश रामटेके सहित अनेक कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

By Dinesh Soni

जून 2006 में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा मेरे आवेदन के आधार पर समाचार पत्र "हाइवे क्राइम टाईम" के नाम से साप्ताहिक समाचार पत्र का शीर्षक आबंटित हुआ जिसे कालेज के सहपाठी एवं मुँहबोले छोटे भाई; अधिवक्ता (सह पत्रकार) भरत सोनी के सानिध्य में अपनी कलम में धार लाने की प्रयास में सफलता की ओर प्रयासरत रहा। अनेक कठिनाइयों के दौर से गुजरते हुए; सन 2012 में "राष्ट्रीय पत्रकार मोर्चा" और सन 2015 में "स्व. किशोरी मोहन त्रिपाठी स्मृति (रायगढ़) की ओर से सक्रिय पत्रकारिता के लिए सम्मानित किए जाने के बाद, सन 2016 में "लोक स्वातंत्र्य संगठन (पीयूसीएल) की तरफ से निर्भीक पत्रकारिता के सम्मान से नवाजा जाना मेरे लिए अत्यंत सौभाग्यजनक रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.