Welcome to CRIME TIME .... News That Value...

Editorial

“अनिरुद्धाचार्य कथावाचक बनाम चुतियाचार्य यूनिवर्सिटी”

आरएसएस और भाजपा की पनाह में कथावाचक की खुजाल

देश में आज अगर WhatsApp University से भी ज़्यादा फेक ख़बरें फैलानी वाली कोई भी यूनिवर्सिटी है तो वह है अनिरुद्धाचार्य उर्फ “चुतियाचार्य यूनिवर्सिटी”…

यह व्यक्ति आरएसएस और भाजपा की पनाह में कथावाचक की खुजाल लिए; समाज में ऐसा भ्रामक और झूठी बातों से ओतप्रोत आडंबर फैला रहा है जिसका तो कोई आदि है और ना कोई अंत…

इस पोस्ट में इन्हीं के द्वारा प्रचारित एक ऐसा वीडियो क्लिप प्रस्तुत है; जो इसकी दुर्बुद्धि का परिचय देता है। इनका कहना हैं कि  apple Company का लोगो (mono) का सार ऐसा है कि :– “अमेरिका से नीम करोली बाबा जी का एक शिष्य आया जो एक फैक्ट्री डालना चाहते हैं और उस (मोबाईल) कंपनी का क्या LOGO बनाएं, तो बाबा जी के पास एक Apple (सेब) रखा था, उन्होंने उस सेब को थोड़ा सा खाकर उसे यह कहते हुए उसे पकड़ा दिया कि यह रहा तेरी फैक्ट्री का सिंबॉल (symbol)…

इसके आगे मुझे लिखते हुए इतनी शर्मिंदगी महसूस कि यदि मैं उक्त कंपनी का मालिक होता तो इस पाखंडी पर मानहानि का मुकदमा दायर कर देता…

अब सच क्या हैं उसे भी जान लीजिए

नीम करौली बाबा जी की मृत्यु जानकारी के मुताबिक 11 सितंबर 1973 को हो चुकी है, उनके 1 साल बाद यानी 1976 में स्टीव जॉब्स, बाबा नीम (नीब) करौली के दरबार में पहुंचे थे; उनका खाया हुआ apple company का symbol लेने …!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

You cannot copy content of this page