नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली के दक्षिण-पश्चिमी जिले के कापसहेड़ा थाना इलाके में रौंगटे खड़ा कर देने वाली वारदात प्रकाश में आई है। पाँच साल के बच्चे को उसकी माँ के प्रेमी ने बेरहमी से पीटने के बाद उसका सिर दीवार से टकरा दिया जिससे बच्चे का सिर फट गया और अस्पताल में ईलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।
सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार बच्चे के पिता यूपी के इलाहाबाद निवासी ने कापसहेड़ा थाने में हत्या, आपराधिक साजिश आदि धाराओं में मामला दर्ज कराया है।
उन्होंने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि वर्ष 2012 में उसकी शादी रानी सिंह के साथ हुई थी। वह ब्रिजवासन के क्रिस्टोस स्कूल में पढ़ाती थी। उसके संबंध वहीं काम करने वाले नरेंद्र से बन गए। रानी; अपने बेटे युवान उर्फ युवी को लेकर अप्रैल, 2018 में समालखा गांव में नरेंद्र के साथ रहने चली गई थी। उसके कहने पर रानी युवान को उससे मिलवाने सेक्टर-21 द्वारका मेट्रो स्टेशन पर लाती थी। युवान हमेशा नरेंद्र के मारपीट करने की बात कहता था। दस जनवरी को रानी ने उसे फोन कर बताया कि युवान कोलंबिया अस्पताल में भर्ती है। अस्पताल में डॉक्टरों ने जवाब दे दिया तो युवान को दूसरे अस्पताल में भर्ती कराया।
बच्चे के पिता के मुताबिक वह अपने भाई के साथ अस्पताल पहुंचा तो युवान वेंटीलेटर पर था। रानी ने उसे बताया कि युवान बेहोश होकर बाथरूम में गिर गया था। उसे लगा कि बाथरूम में गिरने से इतनी चोट कैसे लग सकती हैं। 12 जनवरी को युवान की मौत हो गई थी। पोस्टमार्टम से पता लगा कि उसकी हत्या की गई थी।

पढ़ने के लिए कह रहा था

प्राप्त जानकारी के अनुसार दक्षिण-पश्चिमी जिला डीसीपी ने बताया कि आरोपी ने कहा है कि वह बच्चे को पढ़ने के लिए कह रहा था। बात नहीं मानने पर गुस्से में आकर उसने बच्चे को पीटना शुरू कर दिया।
प्रतीकात्मक छायाचित्र
उसने बच्चे को जमकर लात-घूंसे मारे। इसके बाद भी मन नहीं भरा तो उसे उठाकर दीवार में दे मारा।
कापसहेड़ा थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर सौतेले पिता को गिरफ्तार कर लिया है। बच्चे के मां की भूमिका की जांच की जा रही है। उसे जल्द ही गिरफ्तार किया जा सकता है।

By Kirit Thakkar

विगत 10 से अधिक वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय भूमिका, विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में समसामयिक आलेख, कविताएं, व्यंग रचनायें प्रकाशित, पढ़ना लिखना विशेष अभिरुचि, गरियाबंद जिले में "हाईवे क्राइम टाइम" के जिला ब्यूरो चीफ पद पर नियुक्त।

Leave a Reply

Your email address will not be published.