शराब दुकान में 17 लाख की हेराफेरी, आबकारी विभाग को इसकी भनक तक नहीं !

मामला दर्ज कर जांच में जुटी पुलिस।

महासमुंद। छत्तीसगढ़ महासमुन्द जिले के आबकारी विभाग के नाक के नीचे से प्लेसमेंट और बैंक के कर्मचारियों ने मिलकर लाखों रुपए की हेरा-फेरी करते रहे और आबकारी विभाग को इसकी भनक तक नहीं लगी। आबकारी विभाग को 5 माह बाद जानकारी मिली तो विभाग के अधिकारियों के होश उड़ गये।
इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि आबकारी विभाग के अधिकारी/कर्मचारी अपने कर्तव्य को कितनी ईमानदारी से निभा रहे है। छत्तीसगढ़ में जब से सरकार ने शराब बेचने की शुरूआत की है तब से लगातार इस तरह के कई मामले सामने आये है।
गौरतलब है कि, छत्तीसगढ़ के महासमुन्द जिले के एकता चौक स्थित शराब दुकान में विगत 5 माह से शराब दुकान के कर्मचारी बैंक के कर्मचारियों के साथ मिलकर धोखाधड़ी कर रहे है। जिसकी भनक लगते ही आबकारी विभाग ने आनन फानन में स्थानीय सिटी कोतवाली में मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

साभार : *सूत्र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *