किरीट ठक्कर
गरियाबंद। मार्च माह में राज्य शासन का खजाना खाली होने की जानकारी सुर्खियों में थी, देश के इतिहास में ये पहला अवसर था जब किसी राज्य का खजाना खाली हो गया हो, कोषालय का सर्वर 22 जनवरी से डाउन था। तत्समय जनप्रतिनिधियों का आरोप था की जानबुझकर ई-कोष की वेबसाइट में सर्वर प्राब्लम बताया जा रहा है। उस समय राजधानी रायपुर स्थित मुख्यालय से ही सर्वर बंद होने की जानकारी मिल रही थी।
जिला कोषालय, गरियाबंद।
फिलवक्त में ट्रेजरी के सर्वर में मुख्य शीर्ष 2245 प्राकृतिक विपदा नही खुल रहा है, जिसकी वजह राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 की आर्थिक सहायता राशि जरुरत मंदों को नही मिल पा रही है। इस संबध में ग्राम नाउमुडा तहसील मैनपुर निवासी स्वदेश कुमार पिता पदनुराम ने कलेक्टर को आवेदन दिया है और मुख्य शीर्ष 2245 को खुलवाकर आर्थिक सहायता राशि भुगतान किये जाने की मांग की है।
विदित हो पानी में डुबने की वजह से स्वदेश कुमार की माता विशाखा बाई की मृत्यु जुलाई 2018 में हो गई थी, जिस पर राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 में उल्लेखित प्रावधान के तहत मृतिका के पति पदनुराम को चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की गई थी। इस संबध में इसी वर्ष फरवरी माह में आदेश जारी किया गया था, किंतु ट्रेजरी का सर्वर नही खुलने से गरीबों को आर्थिक सहायता नही मिल पा रही है।

By Dinesh Soni

जून 2006 में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा मेरे आवेदन के आधार पर समाचार पत्र "हाइवे क्राइम टाईम" के नाम से साप्ताहिक समाचार पत्र का शीर्षक आबंटित हुआ जिसे कालेज के सहपाठी एवं मुँहबोले छोटे भाई; अधिवक्ता (सह पत्रकार) भरत सोनी के सानिध्य में अपनी कलम में धार लाने की प्रयास में सफलता की ओर प्रयासरत रहा। अनेक कठिनाइयों के दौर से गुजरते हुए; सन 2012 में "राष्ट्रीय पत्रकार मोर्चा" और सन 2015 में "स्व. किशोरी मोहन त्रिपाठी स्मृति (रायगढ़) की ओर से सक्रिय पत्रकारिता के लिए सम्मानित किए जाने के बाद, सन 2016 में "लोक स्वातंत्र्य संगठन (पीयूसीएल) की तरफ से निर्भीक पत्रकारिता के सम्मान से नवाजा जाना मेरे लिए अत्यंत सौभाग्यजनक रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.