ट्रेजरी सर्वर में ”मुख्य शीर्ष 2245 प्राकृतिक विपदा, नही खुल रहा 6-4 की आर्थिक सहायता के लिए भटक रहे है लोग !

किरीट ठक्कर
गरियाबंद। मार्च माह में राज्य शासन का खजाना खाली होने की जानकारी सुर्खियों में थी, देश के इतिहास में ये पहला अवसर था जब किसी राज्य का खजाना खाली हो गया हो, कोषालय का सर्वर 22 जनवरी से डाउन था। तत्समय जनप्रतिनिधियों का आरोप था की जानबुझकर ई-कोष की वेबसाइट में सर्वर प्राब्लम बताया जा रहा है। उस समय राजधानी रायपुर स्थित मुख्यालय से ही सर्वर बंद होने की जानकारी मिल रही थी।
जिला कोषालय, गरियाबंद।
फिलवक्त में ट्रेजरी के सर्वर में मुख्य शीर्ष 2245 प्राकृतिक विपदा नही खुल रहा है, जिसकी वजह राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 की आर्थिक सहायता राशि जरुरत मंदों को नही मिल पा रही है। इस संबध में ग्राम नाउमुडा तहसील मैनपुर निवासी स्वदेश कुमार पिता पदनुराम ने कलेक्टर को आवेदन दिया है और मुख्य शीर्ष 2245 को खुलवाकर आर्थिक सहायता राशि भुगतान किये जाने की मांग की है।
विदित हो पानी में डुबने की वजह से स्वदेश कुमार की माता विशाखा बाई की मृत्यु जुलाई 2018 में हो गई थी, जिस पर राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 में उल्लेखित प्रावधान के तहत मृतिका के पति पदनुराम को चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की गई थी। इस संबध में इसी वर्ष फरवरी माह में आदेश जारी किया गया था, किंतु ट्रेजरी का सर्वर नही खुलने से गरीबों को आर्थिक सहायता नही मिल पा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *