*हाईवे क्राइम टाईम

रायपुर
 छत्तीसगढ़ की जनता जिसे अपने दिल पर बिठा ले वह बड़े ही सौभाग्यशाली/नसीबों वाला होता है, और जिसे नकार दे उससे ज्यादा नक्कारा/नालायक कोई नहीं। इन्हीं सौभाग्यशाली इंसान में एक रहे हैं रायपुर के निवर्तमान सांसद रमेश बैस।

बुधवार को एकात्म परिसर में हारे हुए विधायकद्वय श्रीचंद सुंदरानी और राजेश मूणत सहित दक्षिण के अजेय विधायक बृजमोहन अग्रवाल के साथ प्रेस वार्ता में बैस ने कहा कि जातिगत राजनीति को हमारा कभी समर्थन नहीं है! मीडिया के समक्ष उन्होंने कहा कि – “सांसद बनने के बाद सबसे पहले मैंने छत्तीसगढ़ का निर्माण करवाया। बैस ने अपनी उपलब्धियां गिनाते हुए आगे कहा कि मेरे कार्यकाल में रेलवे स्टेशन को मॉडल बनाया गया है, एम्स अस्पताल खुलवाया गया, अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाया गया, रायपुर में कई नई ट्रेनों की शुरुआत की गई, इसके अलावा और भी विकास और निर्माण कार्य हुए हैं।”
पत्रकारों से मुखातिब होते हुए बैस ने कहा कि; टिकट कटने से मैं नाराज नहीं हूं। मैं पार्टी का एक छोटा-सा कार्यकर्ता हूं। मैं लगातार जनता के बीच रहा और सात बार भाजपा से सांसद बना। इस वर्ष चुनाव में छत्तीसगढ़ में सभी सीटों पर परिवर्तन किया गया है। हम छत्तीसगढ़ की सभी 11 सीटों पर जीत हासिल करेंगे। उन्होंने कहा कि रायपुर से अपना प्रत्याशी सुनील सोनी भारी बहुमत से जीत रहे हैं।”

By Dinesh Soni

जून 2006 में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा मेरे आवेदन के आधार पर समाचार पत्र "हाइवे क्राइम टाईम" के नाम से साप्ताहिक समाचार पत्र का शीर्षक आबंटित हुआ जिसे कालेज के सहपाठी एवं मुँहबोले छोटे भाई; अधिवक्ता (सह पत्रकार) भरत सोनी के सानिध्य में अपनी कलम में धार लाने की प्रयास में सफलता की ओर प्रयासरत रहा। अनेक कठिनाइयों के दौर से गुजरते हुए; सन 2012 में "राष्ट्रीय पत्रकार मोर्चा" और सन 2015 में "स्व. किशोरी मोहन त्रिपाठी स्मृति (रायगढ़) की ओर से सक्रिय पत्रकारिता के लिए सम्मानित किए जाने के बाद, सन 2016 में "लोक स्वातंत्र्य संगठन (पीयूसीएल) की तरफ से निर्भीक पत्रकारिता के सम्मान से नवाजा जाना मेरे लिए अत्यंत सौभाग्यजनक रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.