*किरीट ठक्कर।
गरियाबंद। बुधवार तडके नेशनल हाईवे पर स्थित एटीएम को लुटने का प्रयास पुलिस की सक्रियता से विफल कर दिया गया। इतना ही नही स्थानीय पुलिस ने बडी तत्परता से लुटेरों का पीछा करते आरोपियों को गिरप्तार भी कर लिया गया।
सुत्रों से मिली जानकारी के अनुसार लुटेरों की संख्या चार से पांच बतायी जा गई थी, संभावना है की लुटेरे अंर्तराज्यीय गिरोह के सदस्य हो सकते हैं।
घटना के परिप्रेक्ष्य में प्राप्त विवरण के अनुसार मंगलवार-बुधवार की दरम्यानी रात तीन बजे के करीब चार से पांच लोग पिकअप लेकर पंजाब नेशनल बैंक के बाजु स्थित एटीएम पहुंचे और एटीएम मशीन को एक मोटे पट्टे से बांधकर उसका दुसरा सिरा पिकअप से बांधकर पुरी मशीन ही उखाडकर ले जाने का प्रयास कर रहे थे कि; पुलिस थाने में लगा सायरन बज उठा। सायरन के बजते ही पुलिस पीसीआर वैन को घटना स्थल की ओर रवाना किया गया जो कोतवाली थाने से कुछ ही फर्लांग दुर है।
पुलिस वैन को देखते ही लुटेरे पिकअप से भागने लगे, पुलिस पीसीआर ने कई किलोमीटर तक पिकअप का पीछा किया, दोनो गाडियों की टक्कर के बाद लुटेरे पिकअप छोड पैदल ही जंगल की ओर भाग खडें हुये थे। खबर है की कुछ घंटों की सघन सर्चिंग के बाद चार आरोपी पुलिस के हाथ लगे। थाना सीटी कोतवाली प्रभारी राजेश जगत के अनुसार इस मामले की विस्तृत जानकारी गुरुवार को दी जायेगी।

 

By Dinesh Soni

जून 2006 में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा मेरे आवेदन के आधार पर समाचार पत्र "हाइवे क्राइम टाईम" के नाम से साप्ताहिक समाचार पत्र का शीर्षक आबंटित हुआ जिसे कालेज के सहपाठी एवं मुँहबोले छोटे भाई; अधिवक्ता (सह पत्रकार) भरत सोनी के सानिध्य में अपनी कलम में धार लाने की प्रयास में सफलता की ओर प्रयासरत रहा। अनेक कठिनाइयों के दौर से गुजरते हुए; सन 2012 में "राष्ट्रीय पत्रकार मोर्चा" और सन 2015 में "स्व. किशोरी मोहन त्रिपाठी स्मृति (रायगढ़) की ओर से सक्रिय पत्रकारिता के लिए सम्मानित किए जाने के बाद, सन 2016 में "लोक स्वातंत्र्य संगठन (पीयूसीएल) की तरफ से निर्भीक पत्रकारिता के सम्मान से नवाजा जाना मेरे लिए अत्यंत सौभाग्यजनक रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.