ईंधन कर में बढ़ोतरी और यातायात के प्रदूषक कारकों पर कर में प्रस्तावित वृद्धि के खिलाफ पेरिस में येलो वेस्ट की लहर।

पेरिस। 8 दिसम्बर (आईएएनएस)| फ्रांस की राजधानी में ईंधन कर में वृद्धि के विरोध में कथित ‘येल्लो वेस्ट’ की अगुवाई में होने वाले सरकार विरोधी प्रदर्शन से पहले कम से कम 278 लोगों को हिरासत में ले लिया गया है। फ्रांस सरकार ने प्रदर्शन के फिर से शुरू होने के मद्देनजर सड़कों पर 90,000 सुरक्षाबलों को तैनात किया है।
केवल पेरिस में ही 8,000 अधिकारियों और 12 बख्तरबंद वाहन तैनात किए गए थे। यहां दुकानें बंद हैं और एफिल टॉवर और लोअुवरे संग्रहालय जैसे दर्शनीय स्थलों को बंद रखा गया है।
एक पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि दिन के दौरान गिरफ्तार होने वालों की संख्या बढ़ सकती है। प्रवक्ता ने कहा, “ज्यादातर लोगों को उन समूहों का हिस्सा होने के नाते गिरफ्तार किया गया है, जो संभवत: हिंसा की वारदातों को अंजाम देने वाले थे या फिर इस उद्देश्य से सामग्रियों को अपने पास रखे हुए थे। उन्होंने कहा कि एक बार प्रासंगिक सत्यापन(संबंधित जांच-पड़ताल) हो जाने के बाद उन्हें रिहा किया जा सकता है।”
‘येल्लो वेस्ट’ आंदोलन तीन सप्ताह पहले ईंधन कर में बढ़ोतरी और यातायात के प्रदूषक कारकों पर कर में प्रस्तावित वृद्धि के खिलाफ शुरू हुआ था, लेकिन इसके बाद इस आंदोलन का राष्ट्रपति इमानुअल मैक्रों सरकार की नीतियों के विरोध के रूप में विस्तार हो गया। मंत्रियों का कहना है कि आंदोलन को ‘अति हिंसक’ प्रदर्शनकारियों ने कब्जा जमा लिया है।
File photo
बीते सप्ताह, उच्च दृश्यता वाली पीली जैकेट पहने प्रदर्शनकारियों की पेरिस में पुलिस से भिड़ंत हो गई थी। बाद में फ्रांसीसी सरकार ने भारी सार्वजनिक प्रतिक्रिया के बाद ईंधन कर बढ़ाने की अपनी योजना को स्थगित कर दी थी।
प्रदर्शनकारी अधिक वेतन, कर में कमी, बेहतर पेंशन और यहां तक की राष्ट्रपति के इस्तीफा की भी मांग रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *