सिर्फ महिलाएं ही नहीं साहब, अब पुरुष भी होने लगे हैं बलात्कार के शिकार !

शर्मनाक, अब युवक हुआ सामूहिक दुष्कर्म का शिकार, पीड़ित ने लगायी “फांसी” 
उपचार जारी।
मानसिक विकृतों ने बिगाड़ी सामाजिक जीवन की स्तिथि।
न महिलाएं सुरक्षित हैं ना ही पुरुष…


*दिनेश सोनी।
बलात्कार यह एक ऐसा मानसिक अवसाद है जिसकी ज्यादातर शिकार महिलाऐं ही होती है, लेकिन अब यह अवसाद की यह विकृति शनैः शनैः व्यापक होती जा रही है। जब भी कोई बलात्कारी गिरफ्त में आए तो सबसे पहले उसे किसी मनोचिकित्सक के पास ले जाना चाहिए; ताकि उसकी इस अवसाद को जानने के लिए कि किस हार्मोन्स के वजह से यह अवसाद मानव मन को दूषित कर यह है उसका पर्याप्त निदान खोजा जा सके। क्योंकि अब इस अवसाद का शिकार न सिर्फ महिलाएं हो रही है; बल्कि पुरुष भी अब इसके दायरे से बच नहीं पा रहे हैं !
देश में अब तक जहाँ महिलाओं से बलात्कार की घटनाओं से सम्बद्ध लगातार खबरे आ रही है वहीं एक ऐसी खबर जो समाज को झकझोर देगी उत्तर प्रदेश के फतेहपुर से एससीजी न्यूज़ के माध्यम से प्रकाश में आई है जहाँ एक युवक का तीन युवकों ने न सिर्फ उसके साथ बलात दुष्कर्म किया बल्कि आरोपियों ने दुष्कर्म का वीडियो भी बना लिया।

फतेहपुर (एससीजी न्यूज़) उत्तर प्रदेश। जहां एक तरफ सरकार लगातार समाज को स्वच्छ एवं अच्छा वातावरण अच्छी सोच देने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है तो वहीं दूसरी तरफ फतेहपुर जिले के सुल्तानपुर घोष गांव में कुछ अलग ही मामला सामने आया है।

सुल्तानपुर घोष गांव में तीन युवकों द्वारा युवक के साथ पहले दुष्कर्म किया और आरोपियों ने दुष्कर्म का वीडियो भी बना लिया। जब पीड़ित के परिजनों ने एफआईआर दर्ज कराई तो आरोपियों ने वीडियो को वायरल कर दिया, समाज में बदनामी के डर के चलते पीड़ित युवक ने फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला को समाप्त करने का प्रयास किया। जब आसपास के लोगों को पता चला तो मौका-ए-वारदात पर पहुँचकर आनन फानन उपचार हेतु सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर उसका उपचार चल रहा है।

“यह है मामला”

सुल्तानपुर घोष गांव के ही शिवम तिवारी, शोएब और वीर प्रताप ने बीते 09 नवंबर को बाबूलाल पाल को जंगल में शौच जाते हुए रास्ते में रोक कर उसके साथ आप्राकृतिक तरीके से दुष्कर्म को अंजाम दिया साथ ही साथ इन लोगों ने उसकी वीडियो भी बना ली जिसको लेकर बाबूलाल को लगातार धमकी देते रहे। जबकि पीड़ित युवक के परिजनों ने दिये तहरीर में ये दर्शाया है कि उक्त तीनों व्यक्ति शराब गांजा अफीम जैसी नशीली चीजों के आदी भी हैं और आपराधिक किस्म के व्यक्ति हैं। इस बात की पूरी जानकारी जब परिजनों को मिली तो इसकी एफआईआर दर्ज कराने की बात सामने आई। जब यह बात उक्त तीनों लोगों को पता चली तो इन लोगों ने जान से मारने की धमकी भी दे दी और वीडियो को वायरल कर दिया। वीडियो वायरल होने के बाद पीड़ित युवक ने 01 दिसंबर को फांसी लगा ली; परिजनों को जानकारी मिलते ही आनन-फानन में उसे हॉस्पिटल में भर्ती करवाया। जहां वह इस समय जिंदगी और मौत के बीच में जूझ रहा है।

तीनों आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा के तहद मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है और आगे की कार्यवाही की जा रही है।
सतेंद्र सिंह,
थाना प्रभारी, सुल्तानपुर घोष, फतेहपुर।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *