सुकमा में युवा महोत्सव की धूम आकाश संस्था के छात्र-छात्राओं ने दी मनमोहक प्रस्तुति।

गढ़बो नवा छत्तीसगढ़‘ के थीम पर आधारित है युवा महोत्सव।
वनांचल के छात्र-छात्राओं व ग्रामीणों ने दिखाया उत्साह
शेख मक़बूल

सुकमा। युवा महोत्सव में जिले भर से पहुंचे युवा प्रतिभागियों ने अपने जोशीले प्रदर्शन से सुकमा के मिनी स्टेडियम में उत्साह और उमंग का वातावरण निर्मित कर दिया। बुधवार को जिला स्तरीय युवा महोत्सव का आयोजन मिनी स्टेडियम में किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष कवासी हरीश थे। समापन समारोह का आयोजन भी कवासी हरीश की मुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ।

कवासी हरीश ने कहा कि यह महोत्सव लोगों को छत्तीसगढ़ और बस्तर की संस्कृति से जोड़ने एवं उनकी प्रतिभा को मंच प्रदान करने की काम कर रही है। उन्होंने प्रतिभागियों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि, हार और जीत इस आयोजन का सिर्फ एक छोटा सा हिस्सा है। उन्होंने कहा कि हारने वाले प्रतिभागियों को निराश नहीं होना चाहिए। उन्होंने सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं दीं और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

इस अवसर पर ‘’आकार‘’ संस्था के छात्र-छात्राओं ने छत्तीसगढ़ के राजकीय गीत ‘‘अरपा पइरी के धार, महानदी हे अपार….’‘ पर मनमोहक प्रस्तुति दी।

जिला स्तरीय युवा महोत्सव में लोकनृत्य, लोकगीत, भरतनाट्यम, चित्रकला, वाद-विवाद, निबंध, तात्कालिक भाषण, व्यंजन, फुगड़ी, कबड्डी, खो-खो, सहित विभिन्न खेल व सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। इसमें जिले के तीनों विकासखंड सुकमा, कोंटा व छिंदगढ़ के चयनित प्रतिभागियों ने भाग लिये। खंडस्तरीय चयनित प्रतिभागियों ने जिला स्तरीय युवा महोत्सव में भाग लिए। इसी तरह जिला स्तर में चयनित विभिन्न विद्या के प्रतिभागी संभाग स्तरीय युवा महोत्सव में भाग लेंगे। संभाग स्तरीय युवा महोत्सव का आयोजन जगदलपुर में होगा। संभाग स्तर में चयनित प्रतिभागी राज्य स्तरीय युवा महोत्सव में भाग लेंगे।

गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की थीम पर आधारित इस युवा महोत्सव में कला के विभिन्न रंग देखने को मिले। निबंध प्रतियोगिता में कु. ताहिरा विकासखंड सुकमा से प्रथम रही चित्रकला में सुकमा से उमेश मरकाम प्रथम रहे वाद विवाद में पक्ष से प्रथम पी भवानी कोंटा, विपक्ष से प्रथम कोंटा से यमन सारथी रहे। इस प्रतियोगिता में कोंटा के भीम पाल रंगारी एवं साथी प्रथम रहे। एकांकी नाटक में बुधराम एवं साथी प्रथम रहे। पारंपरिक वेशभूषा में छिंदगड़ के सुखराम नाग प्रथम रहे। इसी प्रकार प्रारंभ पारंपरिक व्यंजन में सुकमा के कुमारी तनीषा सरिया एवं साथी प्रथम रहे। गेड़ी दौड़ में प्रथम दिरदो। भंवरा में प्रथम सागर गोटा सुकमा। फुगड़ी में प्रथम कुमारी कवासी रिंकी सुकमा। सामूहिक लोक नृत्य में प्रथम विकासखंड छिंदगढ़, पारंपरिक लोकगीत में प्रथम विकासखंड सुकमा। भरतनाट्यम कु. विभूति यादव सुकमा, तात्कालिक भाषण में सुकमा के मोहन सिंह प्रथम रहे। हारमोनियम में प्रथम मनोज कुमार सुकमा, एकल गीत में प्रथम भारत ओरसा कोंटा और तबला वादन में प्रथम भुनेश्वर दास कोंटा, बांसुरी वादन में प्रथम बुधाराम बघेल छिंदगढ़ रहे। इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण और शिक्षक-शिक्षिकाएं उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *