संकुल समन्वयक की मनमानी से ग्रामीण हुए नाराज, हटाने की मांग।

किरीट ठक्कर
गरियाबंद। संकुल केंद्र मरोदा के संकुल समन्वयक लोकेश सोनवानी कीे मनमानी और पक्षपाती रवैये से ग्राम पंचायत छिन्दोला के ग्रामीण त्रस्त हो चुके हैं। इस बाबत विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष तुलसराम , शाला विकास समिति के अध्यक्ष भगवती , सरपंच शत्रुघन ध्रुव , बीडीसी मेम्बर रमशीला बाई , कांग्रेसी नेता सुरेश मानिकपुरी ,ग्रामीण नारायण सिंह, हेमलाल, गोपाल, डिगेश्वर आदि ने कलेक्टर को ज्ञापन सौपातें हुए संकुल समन्वयक को हटाने की मांग की है।
कलेक्टर को ज्ञापन सौपते छिन्दोला के ग्रामीण
ग्रामीणों के अनुसार प्राथमिक शाला छिन्दोला में एक ही शिक्षक पदस्थ थे जिनका व्यवस्था के तहत अंग्रेंजी स्कूल गरियाबंद तबादला कर दिया गया, इसी तरह माध्यमिक शाला के शिक्षक को भी गरियाबंद भेज दिया गया, जबकि इसी वर्ष छिन्दोला में हाई स्कूल का उन्नयन किया गया है।
बीईओ कार्यालय से ज्ञात हुआ कि संकुल समन्वयक द्वारा सुझाये गए नामो के आधार पर एक ही गांव के दो शिक्षको को हटाया गया है। संकुल समन्वयक ये कहते पाए गए हैं की छिन्दोला की बजाए कही और हाई स्कूल खुलना चाहिए था। छिन्दोला में हाई स्कूल खुलने से मेरी परेशानी बढ़ गई है। लोकेश सोनवानी इस गांव के प्रति भेदभाव करते हुए वर्तमान शिक्षण सत्र में प्राथमिक शाला में व्यवस्था के तहत कार्यरत शिक्षक को तुरन्त कार्यमुक्त करने प्रधान पाठक को कहते हैं। ग्रामीणों ने जुलाई माह में भी लोकेश सोनवानी को पद से हटाने की मांग को लेकर कलेक्टर को आवेदन प्रस्तुत किया था। प्रशासन द्वारा मांगे नही माने की सूरत में धरना प्रदर्शन कर बच्चो को स्कूल नही भेजने की चेतावनी दी गई है।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *