मतदान दल पर नक्सली हमला और दरभा डिवीजन कमेटी का सचिव साईनाथ ने पर्चा जारी कर लिया भीमा मंडावी के हत्या की जिम्मेदारी के साथ बस्तर लोकसभा का चुनाव सम्पन्न।

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य के एकमात्र लोकसभा सीट बस्तर मे हुए मतदान के दौरान मतदान दल के कर्मचारियों पर नक्सलियों ने एक बार फिर हमला कर 5 बरस पूर्व किए हमले की यादें फिर ताजी कर दी। प्राप्त जानकारी के मुताबिक बस्तर लोकसभा क्षेत्रांतर्गत नारायणपुर जिले के ओरछा इलाके में मतदान करवाकर लौट रहे दल पर नक्सलियों ने घात लगाकर हमला कर दिया। मतदान दल पर अचानक हुए इस हमले के बाद दल की सुरक्षा में तैनात जवानों ने भी नक्सलियों का डटकर सामना करते जवाबी फायरिंग की।
पुलिस उपमहानिरीक्षक, नक्सल ऑपरेशंस सुंदर राज पी. ने इस घटना की पुष्टि करते बताया कि ओरछा क्षेत्र में नक्सलियों ने मतदान दल पर हमला किया था जिसका पूरे साहस के साथ जवानों ने सामना करते कई नक्सलियों को मार गिराया है। जबकि मुठभेड़ स्थल पर एक नक्सली का शव बरामद किया गया है। फायरिंग के बीच मतदान दल को सुरक्षित निकाला लिया गया है। उन्होंने यह जानकारी भी दी कि इस मुठभेड़ में एक जवान को गोली भी लगी है, जो फिलहाल खतरे से बाहर है।
ज्ञात हो कि 9 अप्रैल 2014 के दिन छत्तीसगढ़ के दुर्दांत नक्सल हिंसा से प्रभावित सुकमा जिले के चिंतागुफा से लौटते वक़्त 200 की संख्या में एंबुश लगाए भारी हथियारों से लैश माओवादियों ने एकाएक हमला कर दिया था,  परिणाम यह हुआ कि 3 कमांडो घटना स्थल पर ही शहीद हो गए और पांच एमी घायल हुए। 200 की संख्या में हमलावर नक्सली शहीद नरसिम्हा और चन्द्रकांत घोष का हथियार लूटने में भी सफल रहे थे।

दरभा डिवीजन कमेटी के सचिव साईनाथ ने पर्चा जारी कर भीमा मंडावी सहित 4 जवानों की हत्या की ली जिम्मेदारी।

वहीं दूसरी ओर दंडकारण्य स्पेशल जोन और दरभा डिवीजन कमेटी का सचिव साईनाथ ने पर्चा जारी कर विधायक भीमा मंडावी सहित 4 जवनो की हत्या की जिम्मेदारी लिया है। नक्सली कमांडर पाली, बिज्जे, सुक्खे का पुलिस द्वारा इनकाउंटर के विरोध में किया श्यामगिरी ब्लास्ट। अडानी को बैलाडीला का 13 नंबर प्लांट देने के विरोध भी किया दर्ज ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *