*किरीट ठक्कर।
गरियाबंद। जिला प्रशासन द्वारा लोकसभा चुनाव के मद्देनजर तैय्यारियां प्रारंभ कर दी गई है, इसी के तहत आज ईवीएम मशीनों को एसडीएम कार्यालय प्रांगण स्थित स्टांग रुम से निकालकर वेयर हाउस मंडी प्रांगण पहुंचाया गया, उक्त कार्यवाही विभिन्न राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों एवं अधिकारियों की उपस्थिति में की गई। उप जिला निर्वाचन अधिकारी जे आर चौरसिया ने बताया की आगामी लोकसभा चुनावों में इन ईवीएम मशीनों के प्रयोग के पूूर्व इन मशीनों का सीआरसी किये जाने के बाद फर्स्ट लेवल चेंकिंग की जायेगी। चेंकिंग के दौरान उपयोगी अनुपयोगी मशीनों को चिंहिंत किया जायेगा, जिसके लिए एचसीएल कंपनी हैदराबाद के 10 ईंजीनियर्स यहॉ पहुंच चुके हैं। प्राथमिक स्तर की जांच में खराब पायी जाने वाली मशीनों को दुरुस्त करने हैदराबाद भेजा जायेगा।
इससे पहले इन मशीनों से विधानसभा चुनावों में प्राप्त रिजल्ट (डाटा) को क्लियर (सीआरसी) कर दिया जायेगा।
    प्राप्त जानकारी के अनुसार विधानसभा चुनावों में प्राप्त मतों को अब तक इन मशीनों में सुरक्षित रखा गया था,  45 दिनों की अपील अवधि समाप्त होने के बाद अब सभी मशीनों से डाटा क्लियर कर दिया जायेगा, जिससे मशीनों का उपयोग आगामी लोकसभा निर्वाचन के दौरान किया जा सके।
स्ट्रॉग रुम के समक्ष प्रतिनिधि व अधिकारी।
ईवीएम्स को स्ट्रॉग रुम से निकालने के दौरान राजनैतिक दलों केे रमेश मेश्राम आईएनसी, किरीट ठक्कर एनसीपी, रिखीराम यादव बीजेपी के अतिरिक्त एसडीएम बी आर साहु तहसीलदार राकेश साहू नायाब तहसीलदार मनोज गुप्ता तथा निर्वाचन कार्यालय के अन्य अधिकारी कर्मचारी गण उपस्थित रहे।

By Dinesh Soni

जून 2006 में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा मेरे आवेदन के आधार पर समाचार पत्र "हाइवे क्राइम टाईम" के नाम से साप्ताहिक समाचार पत्र का शीर्षक आबंटित हुआ जिसे कालेज के सहपाठी एवं मुँहबोले छोटे भाई; अधिवक्ता (सह पत्रकार) भरत सोनी के सानिध्य में अपनी कलम में धार लाने की प्रयास में सफलता की ओर प्रयासरत रहा। अनेक कठिनाइयों के दौर से गुजरते हुए; सन 2012 में "राष्ट्रीय पत्रकार मोर्चा" और सन 2015 में "स्व. किशोरी मोहन त्रिपाठी स्मृति (रायगढ़) की ओर से सक्रिय पत्रकारिता के लिए सम्मानित किए जाने के बाद, सन 2016 में "लोक स्वातंत्र्य संगठन (पीयूसीएल) की तरफ से निर्भीक पत्रकारिता के सम्मान से नवाजा जाना मेरे लिए अत्यंत सौभाग्यजनक रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.