शमशान व ग्राम विकास की जमीन पर कब्जे का प्रयास विरोध में आये ग्रामवासी।

*किरीट ठक्कर।
गरियाबंद। तहसील अंतर्गत ग्राम संबलपुर की शासकीय जमीन पर अवैध कब्जे को लेकर करीब 150 से अधिक ग्रामवासी कलेक्टर जनदर्शन में पहुुंचे थे। ग्रामीणो के अनुसार खसरा नं. 98 शासकीय भुमि पर भुतपुर्व सैनिक और उसका भाई अवैधानिक रूप से कब्जा कर रहे है। उक्त 5 एकड जमीन बडे झाड जंगल अंतर्गत है, गांव में इस जमीन का उपयोग शमशान घाट के तौर पर किया जाता है। ग्राम संबलपुर की सरकारी जमीन खसरा नं. 98 बडे झाड जंगल व गोठान के रास्ते की जमीन खसरा नं. 44 का अवैध कब्जा करते हुऐ कब्र की भी खुदाई कर दी गई थी, जिससे कब्र में दफ्न दयाराम जगत व अन्य मृत व्यक्तियों के नरकंकाल बाहर आ गये थे।
इस घटना की शिकायत तहसीलदार को फरवरी 2018 में की गई थी। जिसपर तहसीलदार एवं थाना प्रभारी द्वारा धारा 151 की कार्यवाही करते हुऐ आरोपी भुतपुर्व सैनिक जगदीश कुमार पांडे के विरूद्ध कार्यवाही की गई थी, साथ ही जमीन समतलीकरण करवा दिया गया था।
इस मामले में जगदीश कुमार पांडे द्वारा अपने अधिवक्ता के माध्यम से धारा 80 के तहत् करीब 39 ग्रामवासीयों व तहसीलदार , नायब तहसीलदार थाना प्रभारी , प्रधान आरक्षक सीटी कोतवाली गरियाबंद आदि को नोटिस भेजा है। नोटिस में लिखे मजमुन के अनुसार भूतपुर्व सैनिक जगदीश कुमार ग्राम संबलपुर शासकीय भुमि पर जिलाधीश गरियाबंद के मौखिक आदेशानुसार कृषि योग्य बनाकर पिछले 12 साल से काश्तकारी करता आ रहा है, ग्रामवासी उसपर आधारहीन व झुठा आरोप लगा रहे है।
इधर ग्रामवासी जयसिंग दीवान, राधेलाल दीवान, टेकराज कोमर्रा, चिंताराम पटेल, महिला पंच जनकबाई दीवान, तुलसीबाई जगत आदि के अनुसार भुतपुर्व सैैनिक जगदीश पांडे व उसका भाई बगैर पंचायत अनुमोदन के, ग्राम विकास व खेल मैदान, शमशान घाट आदि के लिये आरक्षित भुमि पर जबरन कब्जा कर गांव में अशांति फेैला रहा है।

शासकीय भुमि पर अवैध कब्जे का कृत्य गलत है, बडे झाड जंगल की जमीन पर कब्जा या पट्टा देने का अधिकार कलेक्टर साहब को भी नही है।                                        राकेश साहू, तहसीलदार गरियाबंद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *