पेट्रोल चुराने पर पकडे जाने को लेकर थी रंजिश, सरेराह जानलेवा हमला।

बताया जाता है कि घायल और आरोपी में गहरी दोस्ती थी। कुछ वक्त पहले आरोपी घायल युवक के बाइक से पेट्रोल चुराते हुए पकड़ा गया था। इसके बाद काफी विवाद भी हुआ था। शायद इसी पुरानी रंजिश को लेकर आज मौका मिलते ही आरोपी द्वारा इस घटना को अंजाम दिया गया। फिलहाल गंभीर रुप से घायल युवक का इलाज गंगोत्री अस्पताल में चल रहा है। सूत्रों ने बताया कि घायल युवक के जबड़े में चाकू घुसा दिया गया, गले में पेचकस से वार किया गया, सिर में लोहे की रॉड से भी हमला किया गया।

*दुर्ग hct desk। दिनांक 21.11.2023 को उतई में गाँधी चौक के पास गणेश उड़िया नाम के लड़के ने अपने कुछ साथियों के साथ गौतम कन्नौज नाम के लड़के को रॉड, चाकू और डंडे से मारपीट कर गंभीर चोट पहुँचाया था। मामला, थाना कोतवाली में धारा 307, 34 का अपराध दर्ज किया गया। मारपीट के संबंध में एक वीडियो वायरल हुआ था जो अब वायरल हो रहा है। वीडियो में गणेश उड़िया आपसी रंजिश की वजह से गौतम को लोहे की रॉड से उसके सीने में मारते हुए दिख रहा है। इसके अलावा एक जो आरोपी था वह उसको सिर में पीछे तरफ डंडे से मारा था जो नाबालिक लड़का है, जानकारी के मुताबिक
यह वीडियो इसी ने बनाया था। मारपीट करने के बाद में आरोपी जो उसी के मोहल्ले के लड़के हैं उन लड़कों के साथ में गाड़ी में बैठकर भाग गए थे।

डिपरापारा, मोची मोहल्ला निवासी गौतम कन्नौजिया (21 वर्ष) दुर्ग उतई चौक पर खड़ा था। उसी समय इंदिरा नगर निवासी थाना आदतन गुंडा बदमाश गणेश उडिय़ा अपने करीब आधा दर्जन साथियों के साथ पहुंचा। सभी के हाथ में चाकू, रॉड, डंडा और लोहे का सरिया था। सभी आरोपी बाइक से उतरे और गौतम कन्नौजिया पर ताबड़तोड़ चाकू से हमला करने लगे। इसके बाद जब गौतम उतई चौक पर ही जमीन पर गिर गया तो गणेश उडिय़ा और उसके साथी सरिया से बड़ी बेरहमी से प्राणघातक हमला करने लगे। इस दौरान उनका एक साथी अपने मोबाइल से वीडियो बना रहा था।

घटना में प्रयुक्त चाकू, कैंची, लोहे का रॉड, हॉकी स्टीक एवं 03 मोटर सायकल जब्त

प्रार्थी नरेश कन्नौजे पिता राजेश कन्नौजे, उम्र 23 साल निवासी वार्ड क. 40 पोटिया रोड, मोचीपारा, दुर्ग जिला दुर्ग (छ.ग.) ने थाना सिटी कोतवाली दुर्ग में आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि दिनांक 21.11.2023 को 11:30 बजे गांधी चौक बबला होटल के पास दुर्ग में मेरे भाई गौतम कन्नौजे को पूर्व आपसी रंजिश को लेकर गणेश नागेश, भूपेन्द्र कुमार व अन्य लोगो द्वारा धारदार चाकू, कैंची, लोहे का रोड से सिर, सीना एवं शरीर के अन्य जगह पर मारपीट कर गंभीर चोट पहुंचाया। रिपोर्ट पर से तत्काल थाना प्रभारी सिटी कोतवाली दुर्ग निरीक्षक महेश ध्रुव घटना की सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को दिया गया। थाना सिटी कोतवाली दुर्ग में अपराध क्रमांक 687/2023 धारा 307, 34 भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया।

घटना की गंभीरता को देखते हुये पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राम गोपाल गर्ग के मार्गदर्शन/निर्देशन में, एवं अति पुलिस अधीक्षक (शहर) अभिषेक झा, तथा नगर पुलिस अधीक्षक दुर्ग मणीशंकर चन्द्रा के निर्देशन में थाना प्रभारी सिटी कोतवाली दुर्ग निरीक्षक महेश ध्रुव के नेतृत्व में टीम गठित कर आरोपीगणो की पतासाजी हेतु टीम को रवाना किया गया। प्रकरण में आरोपी के द्वारा घटना कारित करते हुये विडियोग्राफी कर विडियो वायरल किया गया था, विडियो एवं घटना स्थल के आसपास के सीसीटीवी कैमरा देखने पर आरोपीगणो द्वारा चाकू, रॉड, डंडा, कैंची रखकर गाली-गुफ्तार कर जान से मारने की धमकी दे कर मारपीट कर तीन मोटर सायकल में भगते दिख रहे हैं।

नौ आरोपी गिरफ्तार

विडियों एवं सीसीटीवी कैमरा के आधार पर अन्य आरोपीगणो की पहचान कर धर-पकड़ की कार्यवाही किया गया। प्रकरण में धारा 294, 506, 143, 147, 148 भादवि 25, 27 आर्म्स एक्ट जोड़ा गया है प्रकरण के आरोपीगण 01. गणेश नागेश पिता गजेन्द्र नागेश उम्र 20 साल, 02. कलेश पात्रे पिता त्रिवेन्द्र पात्रे उम्र 19 साल, 03. निकेश पात्रे पिता त्रिवेन्द्र पात्रे उम्र 22 साल 04. भूपेन्द्र कुमार पिता जलन्धर उम्र 26 साल 05. सम्मू कुमार पिता कैलाश उम्र 19 साल 06. फिरोज सोनी पिता विजू सोनी उम्र 22 साल 07. रोशन डोगरे पिता राजेन्द्र डोगरे उम्र 26 साल 08. विजेन्द्र बन्छोर पिता धनश्याम उम्र 28 साल एवं 09. विधि से संघर्षरत् बालक सभी निवासी इंदिरा कॉलोनी पोटिया रोड दुर्ग को पुलिस अभिरक्षा में लेकर आरोपीगणो के कब्जे से घटना में प्रयुक्त चाकू, कैंची, लोहे का रोड, हॉकी स्टीक, डंडा, 02 मोबाईल फोन एवं 03 मोटर सायकल जप्त कर कब्जा में लिया गया।

आरोपियों की गिरफ़्तारी में उनि आदोराम साहू, उनि खगेन्द्र पठारे, सउनि किरेन्द्र सिंह, प्र.आर. हरीशंचद चौधरी, मनेन्द्र वर्मा, म.प्र.आर. चम्पाकली यादव, आरक्षक राधेश्याम चन्द्राकर, रविन्द्र सिंह, अनुप साहू, विकास ठाकुर, त्रिलोचन ठाकुर, श्रवण प्रजापति, हितेन्द्र कोसरे, कमलेश वर्मा, ललीत साहू, संजीव सोनी, लव पाण्डेय, अलाउद्दीन शेख, म.आर. सपना राजपूत, सपना चौहान एवं थाना स्टाफ का सराहनीय योगदान रहा।

*courtesy : www.azadhindtimes.com

https://chat.whatsapp.com/F36NsaWtg7WC6t0TjEZlZD

10 thoughts on “पेट्रोल चुराने पर पकडे जाने को लेकर थी रंजिश, सरेराह जानलेवा हमला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *