सीतापुर में बजरंग बाबा के कामोत्तेजक बोल – “खुलेआम महिलाओं से करूंगा बलात्कार” !

हिन्दू धर्म में मान्यता है कि राम त्रेता युग में पैदा हुए थे और उनकी पत्नी सीता भी जो सर्वव्यापी है। राम को जब वनवास हुआ तब उसके साथ लक्ष्मण और सीता भी वन को गए मगर वनवास से लेकर लंका फतह करने के बीच एक महाबली वानर बजरंग बलि का भी जिक्र हुआ है जिसने स्वामिभक्ति और मातृभक्ति की मिशाल कायम है।
त्रेता युग के बजरंग ने सीता को “माता” कहा और उसकी मर्यादा पर हाथ डालने वाले रावण की लंका का खेलते-कूदते दहन कर डाला। बजरंग के बिना रामायण की कल्पना ही नहीं की जा सकती। तो ये हुआ त्रेता युग के बजरंग बली की बात अब आते हैं कलयुग में जहाँ आज भी बजरंग बली को साक्षात मानते हैं। मगर हम जिस बाबा बजरंग की बात कर रहे हैं जो एक मुनि है। जी हाँ, बाबा बजरंग मुनि

यूपी के प्रतापगढ़ का रहने वाला है बाबा बजरंग मुनि

यूपी hct : desk। सीतापुर में बड़ी संगत आश्रम का महंत बाबा बजरंग मुनि दास मूलतः प्रतापगढ़ के भोपिया इलाके का निवासी है। तकरीबन 4 साल से यहां आश्रम पर रहकर देखभाल करता है। आश्रम सीतापुर से महज 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

बजरंग मुनि का असली नाम अनुपम मिश्रा है, वह ​​​प्रतापगढ़ जिले के ​औवार गांव का रहने वाला है। जिसका; एक वीडियो वायरल होने के बाद से हड़कंप मचा हुआ है।

सियासी दलों से लेकर महिला आयोग आया हरकत में

सियासी दलों से लेकर महिला आयोग तक ने इस मामले का संज्ञान लेते हुए महंत बजरंग मुनि के गिरफ़्तारी की मांग की है। महिला आयोग ने इस मामले में यूपी के डीजीपी मुकुल गोयल को नोटिस जारी करते हुए सात दिनों में जवाब तलब किया है, साथ ही महंत बजरंग मुनि के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी के निर्देश दिए हैं।

बीते 48 घंटे के अंदर सोशल मीडिया पर महंत बजरंग मुनि के दो वीडियो वायरल हुए हैं, जिसमें वह मुस्लिम कौम को लेकर अमर्यादित टिप्पणी करते नजर आ रहे हैं। वायरल वीडियो में महंत समुदाय के लोगों को हिदायत देते हुए बोल रहे हैं कि – “अगर कोई एक हिंदू लड़की छेड़ी तो मैं खुलेआम तुम्हारे घर से बहू बेटियों को उठाकर बलात्कार करूंगा।

यह वायरल वीडियो 2 अप्रैल का बताया जा रहा है। फिलहाल महंत का वीडियो सामने आने के बाद पुलिस और प्रशासन अलर्ट है। महंत ने यह बयान खैराबाद स्थित शीशे वाली मस्जिद के सामने दिया था। हमारे द्वारा समाचार में वायरल वीडियो संलग्न है लेकिन हम यह दावा नहीं करते कि उसमे कितनी सच्चाई है। लेकिन …

कार्यवाही की उठी मांग और …

सपा के प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने कहा कि – “कोई भी बेटी, किसी भी जाति धर्म की हो वह देश की बेटी है। अगर कोई भी उस पर गलत टिप्पणी करेगा तो सरकार को उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।

सामाजिक कार्यकर्त्ता शबाना ने कहा कि – “जो गलत करे उसे सजा मिलनी चाहिए। अगर मुस्लिम समाज का कोई लड़का गलत करता है, इसका ये मतलब नहीं है कि पूरा मुस्लिम समाज गलत हो गया। बाबा का ऐसा बयान गलत है और बाबा के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। आगरा में हम जहां रहते हैं वहां हिंदू -मुस्लिम साथ रहते हैं, कोई परेशानी नही है; सब मिलजुल कर रहते हैं। और ऐसे में धर्म के ठेकेदार माहौल खराब करते है। मेरा सरकार से निवेदन है कि ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए, चाहे फिर वो किसी भी समाज से हो।

बजरंग मुनि के खिलाफ मामला दर्ज

शुक्रवार को महंत बजरंग मुनि का एक और वीडियो चर्चा में आ गया। इसमें उसने ने दावा किया है कि कुछ लोग उसकी हत्या करने की प्लानिंग कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर यह वीडियो आने के बाद प्रशासन हरकत में आ गया। इस मामले में एएसपी उत्तरी, राजीव दीक्षित ने बताया कि बजरंग मुनि के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। वहीं राष्ट्रीय महिला आयोग ने इस मामले का संज्ञान लिया है। आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने इस मामले को गंभीर बताते हुए; डीजीपी यूपी से 7 दिन में इस मामले की रिपोर्ट मांगी है।

हालांकि, मामला के तूल पकड़ने के बाद मुनि दास ने कहा कि अगर मेरी किसी भी बात से माताओं-बहनों को ठेस पहुंची है तो मैं सभी से क्षमा मांगता हूं। मैं सभी नारी जाति का सम्मान करता हूं।

पहले भी विवादों में रहा बाबा बजरंग

16 फरवरी 2021 को आश्रम के निकट पड़ी जमीन पर कब्जा करने को लेकर महंत बजरंग मुनि दास और विशेष समुदाय के लोगों के बीच कहा-सुनी हुई थी। इस दौरान बाबा और उनके समर्थकों का विशेष संप्रदाय के बीच खूनी संघर्ष हो गया था। दोनों पक्षों के लोग घायल हुए थे। बाबा को भी गंभीर चोटें आई थीं। उन्हें इलाज के लिए ट्रॉमा सेंटर लखनऊ में भर्ती कराया गया था। घटना में लोगों पर कार्रवाई न होने के चलते बाबा ने सीतापुर के CO सिटी पीयूष कुमार सिंह पर भी अपनी हत्या करवाने का आरोप लगाया था। बाबा इलाके में तनाव बिगाड़ने और चर्चा में रहने के लिए ऐसे हथकंडे अपनाते रहता है।

हमेशा 2 से 3 गनर और पीएसी की सिक्योरिटी में रहता है बाबा बजरंग मुनि

महंत बजरंग मुनि की सिक्योरिटी में लगी पुलिस फोर्स।

मई 2019 में उदासीन अखाड़ा नासिक से निकाला गया था। SO खैराबाद अरविंद सिंह का कहना है कि बाबा और संगत की सुरक्षा के लिए और डेढ़ सेक्शन PAC बल तैनात रहता है। आधा दर्जन गनर बाबा की सुरक्षा में लगे हैं जो शिफ्ट के हिसाब से सुरक्षा देते हैं। पुलिस के मुताबिक बाबा के खिलाफ धारा 298 के तहत केस दर्ज किया गया है। इस धारा के तहत सार्वजनिक स्थलों पर आपत्तिजनक शब्द इस्तेमाल करना आता है।

whatsapp group

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *