पुराना धान खपाने की कोशिश…, अब होगी एफआईआर।

किरीट ठक्कर, गरियाबंद। इस विपणन वर्ष धान खरीदी के दौरान बिन्द्रानवागढ़ धान उपार्जन केंद्र में करीब 122 कट्टा पुराना धान खपाने की कोशिश ग्रामीणों की सजगता से नाकाम हो गई थी। इतना ही नहीं खरीदी केंद्र के आस पास के घरों में बड़ी मात्रा में पुराने धान का अवैध भंडारण भी ग्रामीणों की सूचना पर पाया गया था। मौके पर पहुँचे अधिकारियों ने बिक्री किये जा रहे धान का जप्ति नामा बनाया साथ ही अवैध धान का पंचनामा बनाकर ग्रामीणों की अभिरक्षा में रखवाया गया था।

दिसम्बर महीने के आखरी सप्ताह में ये मामला सामने आया था , जिस पर हाइवे क्राइम टाइम के द्वारा लगातार खबरों का प्रसारण किया जाता रहा है। इस मामले में अब कार्यालय कलेक्टर खाद्य शाखा द्वारा सहायक पंजीयक को एफआईआर दर्ज करने निर्देशित किया गया है।

खरीदी प्रभारी का ही कारनामा

जिस वक्त ये मामला सामने आया, ग्रामीणों ने इसी खरीदी केंद्र के पूर्व खरीदी प्रभारी पर आरोप लगाया कि ये पुराना धान उसी ने भेजा है। इतना ही नही खरीदी केंद्र के आस पास घरों में बड़ी मात्रा में पुराने धान का अवैध भंडारण भी चुन्नुराम यादव द्वारा किया गया है जो कि पिछले वर्ष इसी खरीदी केंद्र में प्रभारी रहा था। चुन्नुराम यादव द्वारा सुखत और शार्टेज के नाम वर्ष 2020 -21 की धान खरीदी के दौरान फर्जीवाड़ा किया गया था। शिकायत के बाद खम्हारिपारा पहुंचे अधिकारियों ने 731 कट्टा पुराना धान ग्रामीणों के घरों में पाया जो इसी समिति का था और उस पर उपार्जन केंद्र बिन्द्रानवागढ़ का स्टेनसील लगा हुआ था।

तत्काल निलंबित किया गया

मामला सामने आने के बाद आदिमजाति सेवा सहकारी समिति मर्यादित धवलपुर द्वारा सेल्समैन चुन्नुराम यादव को गुणवत्ताहीन धान विक्रय के प्रयास के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया था। इसके बाद भी ग्रामीण लगातार विधि सम्मत कार्यवाही की मांग कर रहे थे। ग्रामीणों द्वारा लागतार कलेक्टर सहित प्रभारी मंत्री तथा अन्य उच्चाधिकारियों के समक्ष आवेदन प्रेषित कर कड़ी कार्यवाही की मांग की जा रही थी।

गंभीर मामला : एफआईआर के निर्देश

अब जाकर कार्यालय कलेक्टर खाद्य शाखा गरियाबंद द्वारा बिन्द्रानवागढ़ धान उपार्जन केंद्र में पाई गई अनियमितता के संबंध में, सहायक पंजीयक, सहकारी संस्थायें को लिखित निर्देश जारी किया गया है। जिसके अनुसार तत्काल प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करवाये जाने के लिए निर्देशित किया गया है।

whatsapp group

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *