ChhattisgarhCrime

सुपारी किलर को कोरिया पुलिस अधीक्षक के द्वारा किया गया गिरफ़्तार।

दीपेन्द्र शर्मा
पत्रकार

कोरिया (hct)। जितेन्द्र कुमार शाह पिता स्व० जोगेन्दर शाह उम्र 30 वर्ष, थाना मनेन्द्रगढ आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि दिनांक 27.11.2021 को घर में शादी व दिनांक 29.11.2021 को पुत्री रूपा का परीक्षा होने से इलाहाबाद चला गया था। घर का देख-रेख हेतु मुंशी राजेन्द्र प्रसाद को बोला गया था कि; दिनांक 04.12.2021 को सुबह सात बजे वापस घर आने पर देखा, घर का दरवाजा का टुटा हुआ है समान बिखरा हुआ था एवं आलमारी का लाकर भी टूटा हुआ है।

आलमारी में रखे सोने व चांदी केे जेवर व नगदी रकम को अज्ञात चोर चोरी कर ले गया कि रिपोर्ट पर अपराध पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया। पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर द्वारा लगातार अनसूलझे मामलो की समीक्षा की जा रही थी, उसी तारतम्य में जरिये मुखबीर सूचना मिली कि शनि दुबे व आकाश बाघ की दिनचर्या में परिवर्तन है लगातार पैसे खर्च कर रहे थे।

उक्त सूचना से तत्काल पुलिस अधीक्षक कोरिया प्रफुल्ल कुमार ठाकुर को अवगत कराया गया तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह एवं पुलिस अनुविभागीय अधिकारी मनेन्द्रगढ राकेश कुमार कुर्रे के दिशा निर्देश एवं मार्गदर्शन में थाना मनेन्द्रगढ़ टीम गठित कर आरोपी व माल का पता साजी पर रवाना हुई। आरोपी आकाश बाघ को रायपुर से तथा आरोपी शनि दुबे को जबलपुर से पकडा गया आरोपियो द्वारा चोरी की गई मशरूका सोने व चांदी के आभूषण को बरामद किया गया। आरोपियो द्वारा चोरी किये गये नगदी रकम को खाने पीने में उडाना बताया गया। आरोपियो द्वारा अपराध कबूल करने पर गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।

पहली घटना की पुनरावृत्ति झगराखाड़ में

वहीं पुलिस थाना झगराखाड़ में दिनांक 29 जनवरी 2022 को प्रार्थी तेज कांत तिवारी पिता जनार्दन प्रसाद तिवारी उम्र 30 वर्ष निवासी वार्ड नंबर 08 छिंदी दफाई झगराखाड के द्वारा इस आशय की रिपोर्ट दर्ज कराई गई कि, दिनांक-12-08-2021 को अपने कादरी के आवास में ताला बंद कर अपने पैतृक ग्रह ग्राम-इलाहाबाद (उत्तर प्रदेश) चला गया था, दिनांक 29 जनवरी 2022 को वापस आया देखा, उसके घर का ताला टूटा हुआ है, घर का सामान बिखरा पड़ा है।

₹18000/- नगदी के अलावा जरुरत की घरेलु सामान भी ले उड़े चोर !

घर के अंदर जाकर देखा तो घर में रखें दो नग इंडेंन रसोई गैस के सिलेंडर गैस चूल्हा, रेगुलेटर, पहनने के कपड़े, पीतल के बर्तन आदि घर पर नहीं थे, कोई अज्ञात चोर घर का ताला तोड़कर करीब ₹18000/रुपऐ का सामान चोरी कर ले गया है।

प्रकरण के घटनाक्रम की जानकारी मिलते ही जिले के पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर सर एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह एवं एसडीओपी राकेश कुर्रे सर को थाना प्रभारी प्रद्युमन तिवारी के द्वारा दी गई। पुलिस अधीक्षक के द्वारा तत्काल प्रकरण दर्ज कर अज्ञात आरोपियों के पतासाजी कर चोरी संपत्ति को बरामद करने के निर्देश दिए गए, निर्देशानुसार प्रार्थी की रिपोर्ट पर धारा 457, 380 भादवी के अंतर्गत प्रकरण पंजीबद्ध किया जाकर प्रकरण विवेचना में लिया गया।

विवेचना के दौरान पतासाजी कर आरोपी विनय सिंह बघेल पिता शमशेर सिंह बघेल जाति राजपूत उम्र 23 वर्ष निवासी 10 नंबर वार्ड झगराखाड़ से पूछताछ की गई,जिसने अपने साथी विजय सिंह उर्फ पथरा निवासी झगराखाड़ के साथ मिलकर घर का ताला तोड़कर घर में घुसकर चोरी करना स्वीकार करते हुऐ चोरी का सामान बर्तन आदि सुशील कुमार ताम्रकार पिता स्वर्गीय रमेश प्रसाद ताम्रकार उम्र 54 वर्ष निवासी मनेंद्रगढ़ झगराखाड़ रोड के यहां पर बिक्री करना बतलाया।

14000 /रुपए सहित चोरी गए सामान बरामद, आरोपी को कारावास।

आरोपी विनय सिंह के मुताबिक मेमोरंडम कथन चोरी हुआ, सामान गैस सिलेंडर, रेगुलेटर, गैस चूल्हा, कपडें, सिगडी़, आदि आरोपी के कब्जे से बरामद किया गया तथा आरोपी विनय सिंह के निशानदेही में खरीददार आरोपी सुशील कुमार ताम्रकार के कब्जे से चोरी के खरीदें हुए पीतल के गुंडी, परात, स्टील की टंकी, आदि कुल कीमती ₹14000 /रुपए सामान बरामद कर दोनों आरोपियों को प्रकरण में धारा 411, 34 भादवि जोड़ी जाकर गिरफ्तार किया गया एवं आरोपियों को न्यायालय पेश किया जाने पर माननीय न्यायालय के द्वारा आरोपियों का जेल वारंट जारी होने पर उप- जेल मनेद्रगढ़ दाखिल कराया गया।

इस कार्यवाही में प्रधान आरक्षक दिनेश तिवारी, आरक्षक रामायण सिंह, आरक्षक दीप तिवारी, उप निरीक्षक सचिन सिंह थाना प्रभारी, सहायक उप निरीक्षक हीरालाल कुजूर, नईम खान, प्रधान आरक्षक दानिश शेख, पुरूषोत्तम बघेल, आरक्षक इस्ताक खान,जितेन्द्र ठाकुर, प्रमोद यादव, भूपेन्द्र यादव, सोनल पाण्डेय, शंभु यादव, राकेश शर्मा, एवं सैनिक 60 विनीत सोनी, का सराहनीय योगदान रहा।

whatsapp group

Dinesh Soni

जून 2006 में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा मेरे आवेदन के आधार पर समाचार पत्र "हाइवे क्राइम टाईम" के नाम से साप्ताहिक समाचार पत्र का शीर्षक आबंटित हुआ जिसे कालेज के सहपाठी एवं मुँहबोले छोटे भाई; अधिवक्ता (सह पत्रकार) भरत सोनी के सानिध्य में अपनी कलम में धार लाने की प्रयास में सफलता की ओर प्रयासरत रहा। अनेक कठिनाइयों के दौर से गुजरते हुए; सन 2012 में "राष्ट्रीय पत्रकार मोर्चा" और सन 2015 में "स्व. किशोरी मोहन त्रिपाठी स्मृति (रायगढ़) की ओर से सक्रिय पत्रकारिता के लिए सम्मानित किए जाने के बाद, सन 2016 में "लोक स्वातंत्र्य संगठन (पीयूसीएल) की तरफ से निर्भीक पत्रकारिता के सम्मान से नवाजा जाना मेरे लिए अत्यंत सौभाग्यजनक रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button