Raipur (hct). In a major development, suspended IPS G P Singh’s lawyer Kamlesh Pandey moved a plea in the local court requesting the court not to shift him to Raipur Central Jail.

The EOW counsel Amrito Das however countered the plea saying that where they should keep GP Singh as he had been Range IG in Raipur and Durg as well as SP in Bilaspur and Jagdalpur and all these jails here have accused arrested by G P Singh during his official stunts in these districts.

Thus accused has no right to decide or ask as to which jail he should be lodged in. It’s discretion of the court in this regard, the EOW counsel said.

join us our Whatsapp Group

By Dinesh Soni

जून 2006 में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा मेरे आवेदन के आधार पर समाचार पत्र "हाइवे क्राइम टाईम" के नाम से साप्ताहिक समाचार पत्र का शीर्षक आबंटित हुआ जिसे कालेज के सहपाठी एवं मुँहबोले छोटे भाई; अधिवक्ता (सह पत्रकार) भरत सोनी के सानिध्य में अपनी कलम में धार लाने की प्रयास में सफलता की ओर प्रयासरत रहा। अनेक कठिनाइयों के दौर से गुजरते हुए; सन 2012 में "राष्ट्रीय पत्रकार मोर्चा" और सन 2015 में "स्व. किशोरी मोहन त्रिपाठी स्मृति (रायगढ़) की ओर से सक्रिय पत्रकारिता के लिए सम्मानित किए जाने के बाद, सन 2016 में "लोक स्वातंत्र्य संगठन (पीयूसीएल) की तरफ से निर्भीक पत्रकारिता के सम्मान से नवाजा जाना मेरे लिए अत्यंत सौभाग्यजनक रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.