Politics

पालिका अध्यक्ष गफ्फु मेमन का दावा : दो साल में प्रदेश भर में सबसे अधिक विकास कार्य किया

क्षेत्रीय विधायक पर सहयोग नही करने का लगाया आरोप

किरीट ठक्कर, गरियाबंद। पालिकाध्यक्ष गफ्फू मेमन ने अपने कार्यकाल के दो वर्ष पूरे करने पर गुरुवार की दोपहर प्रेसवार्ता आयोजित की। प्रेस कांफ्रेंस में गफ्फु मेमन ने अपनी उपलब्धियां गिनवाई तथा आगमी विकास योजनाओं का ब्यौरा प्रस्तुत किया। वहीं क्षेत्रीय विधायक से सहयोग नही मिलने का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि नगर पालिका परिषद को अब तक विधायक निधि से एक रुपया नही मिला है।विद्युत बिलों के बकाया भुगतान को उन्होंने शासन की नाकामी बताया, मेमन ने कहा कि बिजली बिल भुगतान का पैसा शासन से आता है।विपक्ष का काम आरोप लगाना है जिसका वास्विकता से कोई सरोकार नहीं है ।

पालिकाध्यक्ष गफ्फू मेमन ने दावा करते हुए कहा कि सत्ता पक्ष के क्षेत्रिय विधायक का सहयोग नही मिलने और विपक्ष में होने के बावजूद भी मेरे द्वारा प्रदेश में सबसे अधिक विकास कार्य करवाया गया है। उन्होंने बताया कि दो साल में 6 करोड़ से अधिक के विकास कार्य किये गए है। तकरीबन 3 करोड़ के विकास कार्य पूर्ण भी हो चुके है।

मेमन ने विकास कार्यो का ब्यौरा देते हुए बताया कि 2 करोड़ 92 लाख 30 हजार के सीसी रोड निर्माण, गार्डन, स्ट्रीट लाइट का काम किया गया है। 600 से अधिक स्ट्रीट लाइट लगाई गई है। इसके अलावा नगर में साफ-सफाई और पेयजल जैसी बुनियादी सुविधाओं को दुरुस्त किया गया है। उन्होंने भविष्य में भी विकास कार्य निरंतर जारी रहने का भरोसा दिलाया है। उन्होंने बताया कि 1.59 करोड़ के काम जल्द ही शुरू होने जा रहे है। कार्यो की स्वीकृत हो चुकी है, राशि भी जारी हो चुकी है। जल्द ही काम शुरू हो जायेगा।

मार्च तक सर्व सुविधायुक्त बस स्टैंड

मेमन ने कहा मार्च तक नगर के बस स्टैंड में यात्रियों के लिए सारी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध होंगी। इसके अतिरिक्त रैनबसेरा में मूलभूत सुविधाओं का बंदोबस्त किया जायेगा। उन्होंने कहा कि दो साल के कार्यकाल में अधिक समय तो कोरोना काल में गुजर गया। जिसकी वजह से कई कार्य प्रभावित हुए है। कोरोना के कारण विकास कार्यो की गति अवरुद्ध हुई है। फिर भी उन्होंने शहरवासियों की उम्मीदों पर खरा उतरने की भरसक प्रयास किया है। उन्होंने अपने पार्षदों और स्टाफ का भी सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया। पालिकाध्यक्ष ने बताया कि नगर की महिलाओं के लिए जल्द ही लेडीज़ जिम शुरू किया जायेगा। लेडीज़ जिम केवल महिलाओं के लिए आरक्षित होगा पुरुषों को वहां जाना प्रतिबंधित रहेगा।

धूल से मुक्ति के भी प्रयास

मेमन के अनुसार हम गरियाबंद को धूल मुक्त करने के लिए प्रयासरत है। इसी के तहत सड़क के किनारे तिरंगा चौक से सुभाष चौक तक पेवर ब्लॉक लगाने का कार्य जारी है। लेकिन इसमें सबसे बड़ी परेशानी नेशनल हाइवे हैं, जो पालिका के अधिकार क्षेत्र में नही है। इसके लिए उन्होंने कई बार विभागीय अधिकारियों से पत्राचार किया है। लेकिन कोई सफलता नही मिली। उन्होंने छिंद तालाब को भी मैरीन ड्राइव की तर्ज पर विकसित करने की प्लानिंग की हैं जिसके लिए राज्य सरकार से राशि की मांग की गई है।

इस दौरान मेमन ने कहा कि कांग्रेसियों के पास मेरे खिलाफ कोई ठोस मुद्दा नही है, बेबुनियाद बातों को लेकर धरना प्रदर्शन कर अपनी राजनीति चमकाने का प्रयास किया जाता है। उन्होंने राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि नगर के विकास के लिए जितनी राशि की मांग की जाती हैं उससे आधी राशि भी नही मिल पाती, बहुत उम्मीद से पालिका द्वारा 25 करोड़ के विकास कार्यो का प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजा गया था जिसमें से 6 करोड़ रुपए की ही स्वीकृति प्राप्त हुई है, जो उम्मीद से बहुत कम है।

क्षेत्रीय विधायक का भी नगर के विकास में सहयोग नही मिल रहा है। इस सब के बाद भी गफ्फु मेमन ने भरोसा दिलाया है कि आगामी एक साल में शहर की तस्वीर बदल देंगे। इस दौरान प्रेसवार्ता में पालिका उपाध्यक्ष सुरेन्द सोनटके, सभापति आसिफ मेमन, विष्णु मरकाम, गुलेश्वरी ठाकुर, वंश गोपाल सिन्हा, सांसद प्रतिनिधि प्रह्लाद ठाकुर भी उपस्थित रहे।

whatsapp group

Kirit Thakkar

विगत 10 से अधिक वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय भूमिका, विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में समसामयिक आलेख, कविताएं, व्यंग रचनायें प्रकाशित, पढ़ना लिखना विशेष अभिरुचि, गरियाबंद जिले में "हाईवे क्राइम टाइम" के जिला ब्यूरो चीफ पद पर नियुक्त।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button