सामाजिक बहिष्कार : प्रताड़ना से पीड़ित रम्भाबाई साहू, सहयोग की अपेक्षा लिए लखन सुबोध से किया भेंट।

बिलासपुर hct : 28/12/2021 को सारंगढ़ जिला, रायगढ़ निवासी रम्भाबाई साहू ने गुरूघासीदास सेवादार संघ [GSS] ऑफिस बिलासपुर आकर GSS प्रमुख श्री लखन सुबोध से भेंटकर अपने परिवार के साथ हो रहे सामाजिक बहिष्कार-प्रताड़ना, कथित ठेकेदारों- गुंडो द्वारा टोनही- टोनहा [इन्हें टोनही के साथ उनके पति को टोनहा कहकर] मारने – मॉब लिचिंग करने की कोशिश करने, मारपीट करने ,घर में घुसकर तोड़फोड़ करने और इस पर पुलिस द्वारा कुछ भी कार्यवाही नहीं करने की घटना का पूरा वृंतात सुनाई।

उनके बताए अनुसार इनका परिवार हिन्दू देवी – देवताओं को मानने-पूजने के साथ सतनाम धर्म के प्रणेता गुरूघासीदास को भी मानता-पूजता है। अपने घर व बाड़ी में जोड़ा जैतखाम का निर्माण कराकर पूजा-अर्चना करता है और लोगों को जड़ी-बूटी से इलाज की सलाह भी देता है। इससे जातिवादी ठेकेदारी करने वाले नफरत फैलाने वाले लोग गुरूघासीदास को मानने- पूजा करने से मना करते है और रम्भाबाई साहू के परिवार द्वारा अपनी पसंदगी-आजादी से इसे मानते रहने से चिढ़ – कुढ़कर साहू जाति के कुछ लोग अपमानित शब्दों से कि – तुम घासीदास को मानने से चमार हो गए हो, हमारे धर्म [जातिवादी कथित धर्म] को अपवित्र और साहू समाज (?) को बदनाम कर रहे हो कहकर अपमानित-प्रताड़ित किया जा रहा है।

हो चुके हैं मॉब लिंचिंग की शिकार

इस पीड़ित परिवार को मॉब लिचिंग कर मार डालने के लिए लोगों में टोनही- टोनहा है कहकर उकसाया जा रहा है। इन्हें [रम्भाबाई साहू] एवं उनके पुत्र पर भीड़ द्वारा मारपीट भी किया गया और रात में दरवाजा तोड़कर हमला करने भीड़ को उकसाया गया। बहुत मुश्किल से जान बचा सके है। इन कथित ठेकेदारों के प्रशासनिक मिलीभगत एवं दबंगई से अन्य सामान्य जन इनका विरोध करने से डरते- झिझकते हैं, लेकिन आपसी चर्चा में इन ठेकेदारों के सामाजिक बहिष्कार प्रताड़ना का दूसरे जाति के लोग आलोचना करते हैं और पीड़ित पक्ष के साथ कोई सक्ष्म व्यक्ति व संगठन का साथ मिलने पर खुलकर सामने आने की बात कहते हैं, ऐसे लोगों में आदिवासी, चौहान (गंधर्व), राजपूत – क्षत्रिय, यादव समुदाय के लोग हैं।

ये कहते हैं कि पीड़ित साहू परिवार किसी का कुछ बिगाड़ नहीं कर रहा है। वह अपनी इच्छा- आजादी से किसी को भी मानता- पूजता है, तो किसी को परेशानी- आपत्ति नहीं होना चाहिए। हम मौका- समय आने पर पीड़ित पक्ष का संग- साथ देंगे। पीड़ित पक्ष ने आपबीती सभी शिकायतों की लिखित- मौखिक रूप से पुलिस थाना उच्चाधिकारियों, विधायक [कांग्रेस की सतनामी जाति के विधायक उत्तरी गनपत जांगड़े] को भी किया गया लेकिन कुछ भी कार्यवाही नहीं किया जा रहा है।

GSS इस मामले पर आंदोलनात्मक कार्यवाही के लिए कार्यक्रम बनाऐंगा और पीड़िता को हर तरह से साथ- सहयोग करेगा।

whatsapp group

 

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *