रायगढ़ ‘कल कारखानें’ बनें “काल कारखानें” !

मजदूरों के सुरक्षा को लेकर फैक्ट्री प्रबंधनों की लापरवाही उजागर।

रायगढ़ (hct) डेस्क। जिले के पूंजीपथरा थाना क्षेत्र स्थित नवदुर्गा फैक्ट्री में इंडक्शन फर्नेस में ब्लास्ट होने से 4 मजदूरों के झुलसने से एक बार फिर फैक्ट्री प्रबंधनों की लापरवाही उजागर हो गई है। इस हादसे में एक श्रमिक की मौत हो गई। वही तीन गंभीर रूप से घायल हैं। सभी घायल मजदूरो का इलाज जिंदल फोर्टिस हॉस्पिटल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है।

पूंजीपथरा थाना प्रभारी के. के. सिंह ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि इनमें से एक की मौत हो गई है और तीन अभी भी गम्भीर है। घटना सुबह 6 से 7 बजे की है।

मिली जानकारी के मुताबिक पूंजीपथरा के सराईपाली क्षेत्र में संचालित नवदुर्गा फ्यूल्स कंपनी में भीम कुमार दास, उमेश कोडा, नरेंद्र कुमार व जसवंत कुमार गुरुवार की सुबह करीब 5 बजे इंडक्शन फर्नेस क्रमांक 3 के नीचे काम कर रहे थे। उसी दौरान फर्नेस में मटेरियल जाम हो गया और भाप के दबाव से फर्नेस में ब्लास्ट हो गया।

आपको बता दें कि यह पहली दुर्घटना नहीं है, इससे पहले भी फैक्ट्रियों की लापरवाही सामने आ चुकी है जिसमें कई मजदूरों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा है। इसके बावजूद भी फैक्ट्री प्रबंधन मजदूरों के सेफ्टी को लेकर गंभीर दिखाई नहीं दे रहा है, क्योंकि अगर फेक्ट्री प्रबंधन अपनी जिम्मेदारियों को निभाते तो आज इस तरह की दुर्घटना घटित नही होती।

whatsapp group

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *