खाद्य मंत्री ने ग्राम चिचिया और सरनाबहाल में किया नवीन धान खरीदी केंद्र का शुभारंभ।

गरियाबंद | प्रदेश के खाद्य एवं संस्कृति मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत आज एक दिवसीय दौरे पर देवभोग विकासखण्ड अंतर्गत ग्राम चिचिया और मैनपुर विकासखंड अंतर्गत ग्राम सरनाबहाल पहुंचे। यहां उन्होंने नवीन धान खरीदी केंद्र का फीता काटकर शुभारंभ किया।

8 ग्राम पंचायतों के 1200 किसानों को मिलेगा फायदा

दोनो नवीन धान खरीदी केंद्र खुलने से आसपास के 8 ग्राम पंचायतों के 1200 किसानों को फायदा होगा। साथ ही चिचिया में 100 मिट्रिक टन क्षमता वाले खाद्य गोदाम का लोकार्पण किया, यहां उन्होंने गोठान में गोबर खरीदी का भी शुभारंभ किया। चिचिया में धान खरीदी केंद्र खुलने से ग्राम पंचायत डूमरपीटा, बरबहाली , नवागांव के 669 किसान लाभान्वित होंगे।

 किसानों के लिए समर्पित है सरकार– अमरजीत भगत

इस अवसर पर प्रभारी मंत्री ने यहां आयोजित महती जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि यह सरकार किसानों की सरकार है। यहां की 80 प्रतिशत जनता किसान है उनके हित के लिए भूपेश सरकार काम कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य के 1 लाख करोड़ रुपये के बजट में 26 हजार करोड़ रुपये किसानों के खाते में सीधे दे रहे है। सरकार बनते ही सबसे पहले कार्य 10 हजार करोड रूपए का कर्जा माफी और 2500 रुपये में धान खरीदी का फैसला किया। इससे अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि सरकार किसानों के लिए समर्पित है।

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार सबको राशन दे रही है, चाहे अमीर हो या गरीब, कोई भी ब्यक्ति इस राज्य में भूखा न सोए यह हमारा संकल्प है। कोविड -19 के दौर में हमने सबको दवाई दी, सेवाएं दी और मुश्किल हालात में सरकार जनता के साथ खड़ी थी। उन्होंने कहा कि आज जिले के आदिवासी क्षेत्रों में लोगों में उत्साह दिखाई दे रहा है।पहले जहां 7 प्रकार के वनोपजों की खरीदी होती थी, वही हमारी सरकार ने इसे बढ़ाकर 52 वनोपजों की खरीदी कर रही है। तेंदूपत्ता प्रति मानक बोरा 2500 रुपये से बढ़ाकर 4000 रुपये कर दिया गया है।

सरकार द्वारा समर्थन मूल्य पर धान की जाएगी खरीदी 

गांव, गरीब,आदिवासी और किसान हमारे विकास के केंद्र है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार 1 दिसंबर से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी करेगी। सरकार द्वारा समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की जाएगी। साथ ही हमारी सरकार राजीव गांधी किसान न्याय योजना अन्तर्गत प्रति एकड़ 9 हजार रूपए किसानों के खाते में देगी। उन्होंने कहा कि भूमिहीन मजदूरों को भी प्रति वर्ष 6000 रुपए देगी।।

तत्पश्चात प्रभारी मंत्री ने ग्राम सरनाबहाल में नवीन धान खरीदी केंद्र का शुभारंभ किया। इससे ग्राम, सरना बहाल धनोरा, घुमरापदर, और चिखली के 535 किसानों को लाभ मिलेगा। सभा को जिला पंचायत अध्यक्ष स्मृति नीरज ठाकुर, उपाध्यक्ष संजय नेताम, जनक ध्रुव, भाव सिंग साहू ने भी संबोधित किया।इस अवसर पर कलेक्टर निलेश क्षीरसागर , हाऊसिंग बोर्ड के सदस्य विनोद तिवारी ,स्थानीय जनप्रतिनिधि, क्षेत्र के किसान एवं ग्रामवासी मौजूद रहे।

किसानों में खुशी की लहर

दोनो गांवों में नवीन धान खरीदी केंद्र खुलने से किसानों में खुशी की लहर है। ग्राम नवागांव के किसान पतिराम, टेकराम यादव ने कहा कि भूपेश सरकार ने किसानों की समस्या का त्वरित समाधान किया । इससे किसानों को 10 किमी दूर धान बेचने नही जाना पड़ेगा।। वहीं ग्राम सरना बहाल के किसान भजन लाल , बलभद्र, पूरनसिंह ने खुशी जताते हुए राज्य सरकार को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा की अब किसानों को 15 किमी दूर मुद्गेलमाल नही जाना पड़ेगा। आज 5 किसानों को टोकन भी प्रभारी मंत्री द्वारा प्रदाय किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *