Ad space

रायपुर (hct)। खरोरा में हुए हत्या के मामले का हुआ खुलासा। वृद्धा के भतीजों ने ही उसे पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी थी। परिवार को दोनों भतीजों ने दबंगई से जान से मार देने की धमकी देकर डरा धमका कर शव को दफ़न भी करा दिया था। थाना खरोरा में आदिवासी मोहल्ला ग्राम मांठ निवासी एक बुजुर्ग महिला की संदेहास्पद परिस्तिथियों में मृत्यु हो गई थी। जिसको परिजनों द्वारा मुक्तिधाम में दफ़ना दिया गया।

मामले की गम्भीरता को देखते हुए ख़रोरा पुलिस तत्काल हरकत में आयी, छानबीन के दौरान पता चला कि; आदिवासी मोहल्ला निवासी विजय मरावी की माँ जंती बाई मरावी पति नंदकुमार आयु 60 वर्ष के साथ उसी मोहल्ले के सगे भाई; छेदन मरावी व गोविंद मरावी दोनों के पिता मनहरन मरावी के द्वारा दिनांक 2 जून की रात्रि मृतिका के घर जा कर उसके पति व पुत्र के साथ मारपीट कर रहे थे। मृतिका द्वारा बीच बचाव करने पर आरोपियों द्वारा लात मुक्के से मृतिका को अधमारा होते तक मारपीट किया जिससे अगले दिन घायल वृद्धा की मृत्यु हो गयी। आरोपियों द्वारा धमकी दिए जाने से डर से मृतिका के परिजनों द्वारा शव का कफ़न-दफ़न कर दिया गया था।

नीलेश गोयल
खरोरा।

सूचना पर थाना खरोरा में मर्ग कायम कर कार्यपालिक मजिस्ट्रेट की उपस्तिथि में शव उत्खनन करा कर पंचनामा कार्यवाही किया गया। शव का पोस्टमॉर्टम कराया गया जिसमें मृत्यु का कारण अंदरूनी चोट से होना खुलासा हुआ। उक्त घटना के सम्बंध में अपराध क्रमांक 219/21 धारा 450, 294, 323, 506, 302, 34 भादवि के तहत अपराध पंजिबद्ध कर आरोपियों की तलाश की गयी व दोनों छेदन मरावी व गोविंद मरावी को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ के दौरान मृतिका के छोटे पुत्र द्वारा आरोपियों के परिवार की लड़की से फ़ोन से बातचीत किए जाने से नाराज़ हो कर हत्या करना स्वीकार किए। दोनों आरोपियों को न्यायालय पेश किया गया है।

whatsapp group
ad space

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here