Ad space

रायपुर (hct)।छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ के संचालक मंडल सदस्यों ने कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे से उनके कार्यालय में सौजन्य मुलाकात कर केन्द्र सरकार द्वारा लाये गए कृषि सुधार के तीनों कानून पर चर्च किया है और किसानों ने इसे कारपोरेट परस्त तथा किसान, कृषि व उपभोक्ता विरोधी कानून बताया है, इसे राज्य में लागू न करने का अनुरोध किया है।

साथ ही प्रदेश में एक नवंबर से किसानों का पूरा धान समर्थन मूल्य पर खरीदी करने का अनुरोध किया है। गिरदावरी के कारण बहुत से किसानों के पंजीकृत रकबा मे कमी हुआ है जबकि पिछले साल किसानों ने उसी पंजीयन से अपना उपज बेचे थे। रकबे में कमी के कारण बहुत से किसान अपना उपज बेचने से वंचित रह जाएंगे इसलिए ऑनलाइन सुधार करने के लिए पंजीकरण की तारीख 31 अक्टूबर से एक सप्ताह के लिए आगे बढ़ाने की मांग किसानों ने किया है।

तेजराम विद्रोही

उक्त आशय की जानकारी देते हुए अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा के राज्य सचिव तथा छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ के संचालक मंडल सदस्य तेजराम विद्रोही ने बताया कि 24 तारीख को किसान मजदूर महासंघ का आपातकालीन बैठक रायपुर में आयोजित की गई जिसका मुख्य कारण 26- 27 अक्टूबर को होने वाली विधानसभा की विशेष सत्र में किसानों के पक्ष से कृषि मंत्री व मुख्यमंत्री से मुलाकात कर अवगत कराना था। मुख्यमंत्री चुनावी दौरा से बिहार में होने के कारण उनसे मुलाकात नहीं हो पाया परन्तु कृषि मंत्री से मुलाकात कर करीब एक घण्टे की चर्चा में उपरोक्त बिंदुओं पर विचार किया गया।

कृषि मंत्री ने मंडी व्यवस्था को मजबूत बनाने, किसानों के हित मे कदम उठाने से संबंधित सुझाव किसान संगठनों से मांगे हैं साथ ही पंजीयन की तिथि बढ़ाने का आश्वासन दिया है। लेकिन 1 नवम्बर से धान खरीदी करने पर अपनी असमर्थता जाहिर करते हुए कहा कि लॉकडाउन के चलते जुट की बोरो का आभाव है और पश्चिम बंगाल से बोरा आने में देरी हुआ है जिसकी व्यवस्था किया जा रहा है। हाल ही में मंत्रिमंडल के उपसमिति की बैठक होने वाली है उसमें सारी चीजें स्पष्ट हो जाएगी।
मुलाकात करने वालों में अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा के राज्य सचिव तेजराम विद्रोही, किसान बिरादरी के संयोजक डॉ संकेत ठाकुर, पारसनाथ साहू, जिला किसान संघ बालोद के अध्यक्ष जनकलाल ठाकुर, राजधानी प्रभावित किसान कल्याण संघ के अध्यक्ष रूपन चन्द्राकर, महासमुन्द जिला पंचायत सदस्य जागेश्वर चन्द्राकर, प्रगतिशील किसान संघ लोरमी से राकेश तिवारी, छत्तीसगढ़ अभिकर्ता एवं निवेशक कल्याण संघ के अध्यक्ष लक्ष्मी नारायण चन्द्राकर, नदीघाटी मोर्चा के संयोजक गौतम बंद्योपाध्याय, भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश महासचिव भागचंद कुर्रे, राष्ट्रीय सचिव भारतीय किसान यूनियन लोकशक्ति ठाकुर दौलत सिंह बिलासपुर, गोविंद चन्द्राकर बागबाहरा, श्रवण चन्द्राकर आरंग, ललित कुमार साहू, राजिम, सुनील दुबे भाठापारा, झनक राम आवडे उपस्थित रहे।

click the link below 👇🏼 and join us
@Whatsapp
https://chat.whatsapp.com/Bi7zIQ4c8u3E8JMCe82nEs

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here